पैदल चलने वालों को राह दिखाएगा गूगल, मोबाइल से फोटो लेते ही नजर आएगा पूरा रास्ता

नई दिल्ली: आप अगर कहीं गाड़ी से जा रहे होते हैं और आपको रास्ता पता नहीं होता, तो गूगल मैच के जरिये आप अपनी डेस्निेशन तक आसानी से पहुंच सकते हैं। गूगल में ट्रैफिक का पूरा मैप है। लेकिन, अब गूगल ने अपने यूजर्स के लिए एक नया फीचर्स शुरू किया है। इस पर काम पूरा हो चुका है। फिलहाल टेस्टिंग की जा रही है।

गूगल ने अपने यूजर्स के लिए एक नई सर्विस की टेस्टिंग कर रहा है। इस सर्विस के आने के बाद से पैदल चलने वाले लोगों को काफी सहूलियत होगी। खबर है कि गूगल अपने मैप्स में एआर बेस्ड नैविगेशन उपलब्ध कराने की कोशिश में लगा है। गूगल मैप्स का यह नया फीचर कुछ डिवाइसेज पर आ भी चुका है। इस फीचर की मदद से सड़क पर पैदल चलने वाले लोगों को रास्ता ढूंढने में आसानी होगी। यह फीचर यूजर्स के स्मार्टफोन का कैमरा इस्तेमाल करेगा। कैमरे से ली जा रही तस्वीरों के ऊपर यह फीचर बड़े साइज के डिजिटल ऐरो दिखाते हुए यूजर्स को उनके डेस्टिनेशन तक पहुंचाया जाएगा।

ऐप्स पर दिखने वाले डिजिटल ऐरो कैमरे से ली जा रही रियल वर्ल्ड तस्वीरों के ऊपर दिखेंगे। ऐसे में इसका इस्तेमाल करना काफी आसान होगा। रियल टाइम इमेज दिखाने के साथ ही यह फीचर आपको डायरेक्शन के बारे में अलर्ट भी करता रहेगा। गूगल की इस नई नैविगेशन सेवा से पैदल चलने वालें लोगों को बार-बार रास्ता पूछने की समस्या से छुटकारा मिलने की उम्मीद है।

इस फीचर को गूगल मैप्स में मौजूद वाॅकिंग मोड पर जाकर ऐक्सेस किया जा सकेगा। फीचर का इस्तेमाल करने वाले एक यूजर ने ट्विटर पर इसका विडियो भी शेयर किया है। एआर का इस्तेमाल करते हुए मैप्स का यह फीचर जीपीएस और विजुअल पोजिशनिंग सर्विस के साथ मिलकर काम करता है। दावा किया जा रहा है कि इस फीचर का इस्तेमाल करने वाले यूजर्स के गलत दिशा में जाने की संभावना ना के बराबर है। हालांकि माना जा रहा है कि शहरी माहौल में इसकी ऐक्युरेसी में थोड़ी कमी आ सकती है। गूगल ने यूजर्स की सुरक्षा का भी ध्यान रखा है। यही कारण है कि वॉइस नोटिफिकेशन के जरिए यह अपने यूजर्स को फोन नीचे रखकर रोड पर ध्यान देने के लिए कहता है। रियल टाइम इमेज दिखने की वजह से कई यूजर्स फोन पर ही देखना प्रेफर करते हैं जो कि खतरनाक हो सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here