स्वजल परियोजना अधिकारी और जेई के टार्चर से परेशान ग्राम प्रधान ने की आत्महत्या

 

पौड़ी: पौड़ी जिले के कोट ब्लाक के फलस्वाड़ी गांव में ग्राम प्रधान के आत्महत्या करने का सनसनीखेज मामला सामने आया है। मृतक ग्राम प्रधान दीपक के परिजनों ने स्वजल परियोजना अधिकारी और विभागीय जेई पर ग्राम प्रधान को मानसिक रूप से प्रताड़ित करने का आरोप लगाया है। ग्रामी प्रधान ने एक सुसाइड नोट भी लिखा है। एसडीएम पौड़ी का कहना है कि परिजनों की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। मामले की गंभीरता से जांच की जाएगी।

परिजनों ने मानसिक दबाब को ही दीपक की आत्महत्या का कारण बताया है। प्रधान के पास से राजस्व विभाग ने एक सुसाइड नोट भी बरामद किया है। परिजनों का कहना है कि मृतक प्रधान ने अपने सुसाइड नोट में स्वजल परियोजना अधिकारी और जेई पर दबाव बनाने का आरोप लगाया है, जिसके कारण ग्राम प्रधान ने जहर गटकर मौत को गले लगा लिया।

मामले की गंभीरता को देखते हुए उपजिलाधिकारी पौड़ी ने मामले की जांच को अपने हाथ में ले लिया है। उनका कहना है कि जांच करने के बाद जो भी तथ्य सामने आते हैं। उसके मद्देनजर संबंधित विभाग के अधिकारियों पर कार्रवाई की जाएगी। घटना सोमवार देर शाम की है। सुसाइड नोट पर मृतक ग्राम प्रधान ने जेई और अधिकारियों पर 1 लाख 26 हजार का काम करवाने की बात कही गई है। एसडीएम ने जांच शुरू कर दी है, लेकिन सवाल उठ रहे हैं कि जीरो टाॅलरेंस सरकार में भ्रष्टाचार अब जान लेने लगा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here