फटी जींस से लेकर PM को भगवान बताने तक…तीरथ रावत के वो बयान जिनसे मचा था बवाल

देहरादून : कार्यवाहक सीएम तीरथ सिंह रावत ने बीती रात राज्यपाल को इस्तीफा सौंप दिया है। वहीं आज 3 बजे विधायक दल की बैठक है। पर्यवेक्षक नरेंद्र तोमर और दुष्यंत कुमार गौतम देहरादून पहुंच चुके हैं। इसी के साथ अनिल बलूनी भी देहरादून पहुंचे और बीजापुर गेस्ट हाऊस में है। विधायकों के आने का सिलसिला जारी है। वहीं बता दें कि अब शाम तक नए सीएम के नाम का ऐलान होगा। उत्तराखंड को फिर नया सीएम मिलेगा। वहीं आपको बताते हैं कि सीएम तीरथ रावत के वो कौनसे बयान थे जिससे प्रदेश ही नहीं बल्कि देशभर में बवाल मचा था औऱ विपक्ष ने सीधे साधे तीरथ रावत को जमकर घेरा था।

महिलाओं के फटी जींस पहनने वाले बयान पर बवाल

तीरथ सिंह रावत ने बाल अधिकार संरक्षण आयोग के कार्यक्रम में महिलाओं के फटी जींस पहनने पर भी टिप्पणी की थी. इस बयान के बाद तो उनके इस्तीफे की भी मांग उठने लगी थी.कार्यवाहक सीएम ने कहा था कि जब वह एक कार्यक्रम के लिए जहाज में जा रहे थे तो उनके सीट के साइड में एक महिला बैठी थी. मैंने उससे पूछा की बहनजी कहां जाना है आपको दो उसने बताया कि दिल्ली जाना है, उसके पति जेएनयू में प्रोफेसर हैं और वह एक एनजिओ चलाती है. वह फटी जींस पहने हुए थी. मैंने सोचा की जो महिला एनजीओ चलाती है और फटी जींस पहनती है वह समाज और अपने बच्चों को क्या सीखाएगी. तीरथ सिंह रावत के इस बयान की राजनीति से लेकर बॉलीवुड तक के लोगों ने जमकर निंदा की थी.

ज्यादा बच्चे होने और राशन वितरण को लेकर दिया था बयान

मार्च में ही उन्होंने एक कार्यक्रम में ज्यादा बच्चे होने और राशन वितरण को लेकर ऐसी बात कही जिससे उनकी जमकर आलोचना हुई. एक कार्यक्रम में उन्होंने कहा था कि जिनके ज्यादा बच्चे होते हैं उन्हें ज्यादा राशन वितरण होता है. उन्होंने उदाहरण देते हुए कहा था कि अगर मेरे परिवार में दो लोग हैं तो उन्हें 10 किलो राशन मिलता है और जिनके 20 यूनिट(बच्चे) हैं उन्हें 1 क्विंटल राशन दिया जाता है. इसमें जलन किस बात की. जिसने जितने किए उसे उतना मिलता है. जब आपके पास मौका था तो आपने क्यों नहीं किया.

अमेरिका ने भारत पर 200 साल तक राज किया वाला बयान

वहीं तीरथ सिंह रावत के एक और बयान से बवाल मचा था। उन्होंने कहा था कि भारत में कोरोना की कोशिशों के लिए देश की तारीफ कर रहे थे. तभी वो कह गए कि अमेरिका ने भारत पर 200 साल तक राज किया. उन्होंने कहा कि भारत दूसरे देशों की तुलना में ज्यादा प्रभावशाली तरह से कोरोना से लड़ रहा है. इस क्षेत्र में भारत ने महाशक्ति अमेरिका जिस देश ने हम पर 200 साल से ज्यादा समय तक राज किया उससे बेहतर काम किया. वह आज भी इससे संघर्ष कर रहा है.

मां गंगा की कृपा से कोरोना नहीं फैलेगा

जब देश में कोरोना की दूसरी लहर तबाही मचा रही थी, तब उत्तराखंड में कुंभ मेले को लेकर काफी विवाद था. कहा गया था कि कोरोना काल में कुंभ का होना खतरनाक है. लेकिन एक मीटिंग के दौरान तब पूर्व सीएम तीरथ कह गए थे कि मां गंगा की कृपा से कोरोना नहीं फैलने वाला है. वहीं उन्होंने यहां तक कह दिया था कि कुंभ की तुलना मरकज से नहीं की जा सकती है क्योंकि मरकज वाला कार्यक्रम बंद कमरे हुआ था, वहीं कुंभ तो नीलकंठ और देवप्रयाग तक फैला हुआ है.

चीनी वाले बयान पर जमकर हुई थी किरकिरी

तीरथ सिंह रावत का एक बयान खूब सुर्खियों में आया था वो है चीना वाला बयान. गंगोत्री पहुंची तीरथ सिंह रावत ने जनता को संबोधित करते हुए कहा था कि चीनी कभी नहीं मिली, जब से देश आजाद हुआ है. दुख, कष्ट और आपदा में भी नहीं.’ उन्होंने कहा कि हम खाद्यान्न के साथ तीन माह की चीनी भी दे रहे हैं. बोले, कल ही मैंने कैबिनेट में पास किया है. हालांकि, बाद में मुख्यमंत्री कार्यालय ने स्पष्ट किया कि आपदा में पहली बार चीनी को प्रभावितों को दी जाने वाली सामग्री में शामिल करते हुए पूरे प्रदेश को इसका लाभ दिया जा रहा है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here