गैरसैंण सत्र के लिए शासन-प्रशासन ने कसी कमर, अतिरिक्त पुलिस बल तैनात

गैरसैंण- भराड़ीसैंण में आगामी 20 मार्च से प्रस्तावित विधानसभा के बजट सत्र की तैयारियां लगभग पूरी कर ली गई हैं। सप्ताहभर से जिलाधिकारी और एसपी सुरक्षा व्यवस्था को चाक-चौबंद बनाने में जुटे हुए हैं। विधानसभा सचिव जगदीश चंद्र भी गैरसैंण में डेरा डालकर व्यवस्थाओं को अंतिम रूप देने में जुटे रहे। पुलिस कर्मियों ने राज्यपाल के सम्मान में होने वाले गार्ड ऑफ ऑनर का पूर्वाभ्यास किया।

इस मौके पर विधानसभा मुख्य मंडप में 70 विधायकों के बैठने, प्रेस व दर्शक दीर्घा को नये तरीके से सजाने के कार्य को भी पूर्ण कर लिया गया। इस मौके पर विधानसभा सचिव ने जिलाधिकारी आशीष जोशी व एसपी तृप्ति भट्ट से सुरक्षा व्यवस्था व पुलिस कर्मियों के रहने आदि की व्यवस्थाओं को जाना।

एसपी चमोली तृप्ति भट्ट ने बताया कि सुरक्षा के मद्देनजर इस बार 1500 से अधिक पुलिस बल व पुलिस अधिकारी आदिबदरी से भराड़ीसैंण राजमार्ग पर तैनात रहेंगे। साथ ही विधानसभा जाने वाले मार्ग पर दीवालीखाल से भराड़ीसैंण तक तीन स्थानों पर बैरिकेड लगा दिए गए हैं।

साथ ही राजधानी आंदोलन को देखते हुए आंदोलनकारियों को रोकने के लिए मालसी व कुनैली में बैरिकेड लगाने का कार्य पूर्ण कर लिया गया है। आंदोलनकारियों से निपटने को मेहलचौरी व मालसी में अस्थायी जेल के अलावा अतिरिक्त पुलिस बल की व्यवस्था की गई है।

जिलाधिकारी आशीष जोशी ने कहा कि सुरक्षा में लगे पुलिस जवानों के ठहरने के लिए इस बार बोर्ड परीक्षाओं के मद्देनजर इंटर व हाईस्कूल के स्थान पर आधा दर्जन से अधिक निजी विद्यालय, प्राथमिक विद्यालय जिनमें विद्या मंदिर, शिशु मंदिर, जेएसएनएस, भुवनेश्वरी महिला आश्रम, पॉलीटेक्निक, धुनारघाट आईटीआई भवन व शिवालय धर्मशाला में रहने की व्यवस्था सुनिश्चित की गई है।

भराड़ीसैंण परिसर में पुलिस अधिकारियों के लिए टैंट कालोनी की अस्थायी व्यवस्था की गई है। विधानसभा भवन में खिड़कियों पर कांच व परदे लगाने का कार्य भी पूर्ण कर लिया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here