बागेश्वर पहुंची अल्मोड़ा के जंगलों में सुलगी आग, ग्रामीणों के लिए बनी मुसीबत

बागेश्वर: वन विभाग के मुखिया विदेश में एसी की ढडंक ले रहे हैं और इधर, उत्तराखंड में जंगल की आग से जंगल तो धूं-धूं कर जल ही रहे हैं। जंगल के आग की तपिश अब ग्रामीण क्षेत्रों को भी अपनी चपेट में ले रही है। बागेश्वर में आग रिहायशी इलाकों तक पहुंच गई। ग्रामीणों ने अपनी जान जोखिम में डालकर किसी तरह आग को गांव तक पहुंचने से रोका।

दो दिन चली आंधी के बाद हल्की बारिश से कुछ राहत मिली थी, लेकिन अब फिर से जंगलों में आग भड़कने लगी है। पालड़ी, कनकगढ़, गढ़खेत और काफलीगैर के जंगलों में आग लग गई। बैजनाथ रेंज में अणां, फल्याटी समेत कई जगहों पर जंगलों की आग आबादी वाले क्षेत्रों तक पहुंच गई है। ग्रामीणों ने वन कर्मियों के साथ मिलकर आग बुझाई।

जानकारी के अनुसार आग अल्मोड़ा वन प्रभाग से बागेश्वर तक पहुंची है। इ गढ़खेत रेंज के छठिया नाप के जंगल भी धधक रहे हैं। आग से वन संपदा जलकर राख हो रही है। डीएफओ बलवंत सिंह शाही ने बताया कि आग की घटनाओं पर काबू पाने के लिए लगातार प्रयास किए जा रहे हैं। आग बुझाने के लिए कर्मचारियों को लगाया गया है।