पहले CM से मुलाकात, फिर कौशिक से बात, अब बहुगुणा से गुफ़्तगू..

देहरादून : आज मंगलवार को भाजपा समेत कांग्रेस में उस वक्त सियासी तूफान आ गया जब खबर आई कि कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत को प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक का फोन आया है और उन्होंने हरक सिंह रावत को ब्रेकफास्ट का ऑफर दिया है। भाजपा की ब्रेकफास्ट की राजनीति से सब वाकिफ हैं। ऐसा ही वाक्या कुछ दिनों पहले भी हुआ था जब सीएम यशपाल आर्य के आवास पर नाश्ते के लिए गए थे। नाश्ते का तो पता नहीं लेकिन कुछ दिनों बाद भाजपा को झटका लगा कि यशपाल आर्य ने पार्टी थोड़ दी है और कांग्रेस का दामन थाम लिया है। साथ में उनके बेटे भी भाजपा के हो चले।

वहीं आज एक बार फिर से हरक के साथ ब्रेकफास्ट की खबर ने यशपाल आर्य और सीएम की मुलाकात को ताजा कर दिया। वहीं जब हरक सिंह रावत से इस बारे में पूछा गया तो हरक ने बड़े ही साधे अंदाज में कहा कि ये सामान्य मुलाकात है। हरक सिंह ने कहा कि मैं जब भी किसी से मिलने जाता हूं तो वो न्यूज बन जाती है। वहीं हरक सिंह ने कहा था कि वो अब दिन में लंच करने मदन कौशिक के पास जाएंगे।

इसके कई मायने निकाले जाने लगे। कयास लगाए जाने लगे कि क्या हरक भाजपा में खुश नहीं हैं और कांग्रेस का हाथ थामने जा रहे हैं? कयास ये भी लगाए गए कि क्या उनको फटाकर लगाने के लिए मदन कौशिक ने मिलने के लिए बुलाया है? क्योंकि हरक त्रिवेंद्र रावत पर हमला वर हैं. हाईकमान पहले भी ऐसे बयानों से परहेज करने की चेतावनी जारी कर चुका है लेकिन ये चेतावनी हरक सिंह के कानों में नहीं बैठी और आज फिर से कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत ने कहा कि त्रिवेंद्र बेरोजगार हो गए हैं और इसलिए पर्यावरण सरक्षंण के लिए पौधे लगा रहे हैं।

वहीं बीते दिन सोमवार को हरक सिंह ने सीएम धामी से भी मुलाकात की थी। पहले सीएम से मुलाकात, फिर मदन कौशिक से बात और फिर आज शाम बहुगुणा से गुफ्तगू…बहुत कुछ बयां कर रही है। अब ये पॉजिटव है या हरक के लिए निगेटिव ये आने वाले समय में पता चल जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here