2019 में भर्ती महिला सिपाही ने की खुदकुशी, 3 महीने पहले की थी लव मैरिज, मिला सुसाइड नोट

पुलिस की नौकरी को तनाव भरी नौकरी भी कहा जाता है क्योंकि 24 घंटे की ड्यूटी और बढ़ते अपराधों ने पुलिस को तनावग्रस्त कर दिया है। इस बीच तनाव के कारण कई पुलिसकर्मियों ने आत्मघाती कदम भी उठाया हालांकि तनाव का कारण पुलिस की नौकरी के साथ पारिवारिक कलाह भी रहा है।

महिला सिपाही ने फांसी लगाकर की खुदकशी 

जी हां ऐसा ही मामला यूपी के बिधूना कोतवाली से समाने आया है जहां कोतवाली में तैनात महिला सिपाही ने फांसी लगाकर खुदकशी कर ली। उसका शव सुबह पंखे से लटका मिला और एक सुसाइज नोट भी मिला।मौके पर पहुंची पुलिस ने छानबीन की और सुसाइड नोट बरामद किया।

2019 में हुई थी भर्ती, शिक्षक से की थी लव मैरिज

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार बागपत जिले के लतीफनगर निवासी राजेंद्र गिरी की 28 वर्षीय बेटी शालू 2019 में सिपाही के पद पर भर्ती हुई थी। ट्रेनिंग पूरी करने के बाद बीते दिसंबर महीने में उनकी पहली तैनाती जनपद औरैया के बिधूना कोतवाली में हुई थी। शालू ने 3 महीने पहले फरवरी में फिरोजाबाद में शिक्षक राहुल से लव मैरिज की थी जो की कोतवाली के पास ही किराए के कमरे में रहती थी।

बहकी बहकी बातें कर रही थी शालू- बहन

जानकारी मिली है कि सोमवार को शालू का मकान मालिक परिवार के साथ कानपुर गया था।सोमवार रात शालू ने अपनी बहन लखनऊ पुलिस विभाग में तैनात स्वाति से मोबाइल फोन पर बात की थी। शालू की बहन ने बताया कि वो बहकी बहकी बातें कर रही थी। अचानक फोन काट दिया। फिर फोन किया तो उठाया नहीं। जिसे देख कर शालू की बड़ी बहन स्वाति को अनहोनी का शक हुआ और उसने मंगलवार सुबह कोतवाली में फोन करके सूचना दी। वहीं जब पुलिस कमरेें में पहुंची तो नजारा देख हैरान रह गई। शालू का शव पंखे से लटका था।

शालू की बड़ी बहन भी पुलिस विभाग में

वहीं सूचना पर एएसपी कमलेश दीक्षित और सीओ मुकेश कुमार भी पहुंच गए। पुलिस ने कमरे की तलाशी ली तो एक सुसाइड नोट मिला। पुलिस कर्मियों ने फोन पर उसकी बहन को घटना की जानकारी दी है।  सिपाही की बहन स्वाति भी पुलिस में है और लखनऊ में तैनात है। शालू की बहन ने बताया कि शालू ने कहा था कि वो जिंदगी से बहुत परेशान हो चुकी और अब वह जीना नहीं चाहती है। इसपर वह उसे काफी देर तक समझाने की कोशिश करती रही और फिर फोन काट दिया। इसके बाद वह रात में कई बार शालू को कॉल करती रही लेकिन उसका फोन नहीं उठा।

सुसाइड नोट में लिखी ये बात

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार महिला सिपाही के कमरे से सुसाइड नोट मिला है। सुसाइड नोट में लिखा है कि मैं अपनी जिंदगी से परेशान होकर खुदकशी कर रही हूं, प्लीज किसी को परेशान न किया जाए। एएसपी ने बताया कि मामले की जांच कराने के साथ फोरेंसिक टीम ने सबूत इक्कट्ठा किए हैं। परिवार वालों से पूछताछ की जा रही है। जानकारी मिली है कि शालू ने एक पत्र प्रभु के नाम लिखा। जिसमें उसने कहा कि हे प्रभु मुझे रास्ता दिखाओ, आज तक वह कभी भी फेल नहीं हुई। लेकिन अब वह बचपन से आज तक कभी भी फेल नहीं हुई। फिर मुझे वहां फेल क्यों कर रहे हो जहां पास होने की सबसे ज्यादा जरूरत है। मैं लाइफ में कभी भी खुश नहीं रह पाऊंगी मुझे अपने पास बुला लो।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here