हैवानियत : केक खरीदने के बहानेे 8 साल के बेटे को बाजार ले गया पिता, दोनों हाथ बांधकर नदी में डुबाया

मध्य प्रदेश के बालाघाट से एक दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है। इस घटना ने बाप-बेटे के रिश्ते को शर्मसार कर दिया।

दरअसल बालाघाट में एक पिता ने अपने ही 8 साल के मासूम बेटे के दोनों हाथ बांधकर वैनगंगा नदी में डुबोकर मार दिया. घटना के बाद हत्यारा पिता पहले अपने घर गया और बेटे को नदी में डुबोने की बात बताई. जिसके बाद आरोपी ने खुद कोतवाली पहुंच कर पुलिस को अपने बेटे की हत्या करने की जानकारी दी. पिता ने गुनाह कबूल करते हुए कहा कि उसने अपने बेटे को मार कर नदी में फेंक दिया है और अपना वंश खत्म कर दिया है.

बेटे को पहले बाजार ले गया पिता, बेटी का था जन्मदिन

बालाघाट के टी आई विजय परस्ते ने बताया कि अपने मासूम बेटे की हत्या करने के पहले पिता उसे बाजार लेकर गया था. आरोपी की बड़ी बेटी का जन्मदिन था. केक लेने के बहाने पिता बेटे को साथ ले गया और वहां बैटे के दोनों हाथ अपनी बेल्ट से बांधकर वैनगंगा नदी में डुबोकर मार दिया. पुलिस ने घटनास्थल पर पहुंच कर शव बरामद कर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया. और साथ ही आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस मामले की छानबीन में जुट गई है।

वहीं बेटे की मौत की खबर सुनकर घर में कोहराम मच गया। पूरे क्षेत्र में सनसनी फैल गई की आखिर एक पिता ने अपने मासूम बेटे को क्यों मारा।

पिता का खुलासा, इसलिए की बेटे की हत्या

वहीं हत्यारे पिता ने गुनाह कबूल करते हुए पुलिस को बताया कि उसके पास कोई काम नहीं था और परिवार को पालने में मुश्किल हो रही था। जिसके कारण उसने अपने बेटे की हत्या की है. उसने कहा कि बेटे को मारकर वह अपना वंश खत्म करना चाहता था. वहीं, परिजनों का कहना है कि आरोपी के पास काम नहीं होने के कारण अक्सर तनाव में रहता था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here