दोस्त के पैसे लौटाने तो दूर, उल्टा हनीट्रैप के जाल में फंसा दिया…ये है पूरा मामला

हल्द्वानी: हल्द्वानी से लापता कारोबारी को पुलिस ने बचा लिया है। मामले की जांच शुरू करने के बाद पुलिस के सामने अपहरण कि पीछे एक चैंकाने वाली कहानी सामने आई है और पुलिस एक गिरोह तक जा पहुंचा। लापता कारोबारी मुरादाबाद जिले की स्पेशल ब्रांच की हिरासत में मिला। उसे लूटकांड की घटनाओं को अंजाम देने वाले हनीट्रैप गिरोह ने अपने जाल में फंसाकर पकड़ लिया था। गिरोह में महिलाएं ही शिकार को अपने जाल में फंसाती हैं। किडनैप कारोबारी का साथ के ही एक कारोबारी के साथ लेन-देन का मामला चल रहा है। लेकिन, दोस्‍त कारोबारी ने पैसे लौटाने की बजाए उसे हनीट्रैप गिरोह में फंसाकर अपना कमीशन फिक्‍स कर लिया था।

मुरादाबाद पुलिस की हिरासत में मिला

हल्‍द्वानी के तल्ली बमौरी में रहने वाले कारोबारी का हीरानगर में जनरल स्टोर है। बुधवार रात छोटे भाई ने कोतवाली पहुंचकर कारोबारी के लापता होने की सूचना दी। उसके मुताबिक बुधवार की सुबह 11 बजे भाई कुसुमखेड़ा के कारोबारी के साथ रुद्रपुर के लिए निकला था। शाम को दूसरा कारोबारी वापस आ गया, लेकिन भाई नहीं लौटा। परिवार वालों के अनहोनी की आशंका जताने पर पुलिस में हड़कंप मचा। पहले मुखानी थाना पुलिस और फिर कोतवाली पुलिस ने कारोबारी की तलाश शुरू कर दी। मामले की गंभीरता को देखते हुए एसओजी भी तलाश के लिए लगा दिया गया। पुलिस दूसरे कारोबारी और परिजनों को लेकर रुद्रपुर के लिए रवाना हो गई। हल्द्वानी पुलिस की तलाश जब खत्म हुई तो चौंकाने वाली कहानी सामने आई। कारोबारी मुरादाबाद जिले में हुए लूटकांड के मामले में वहां की एसओजी की हिरासत में मिला।

दोस्त ने कराया अपहरण

खानी निवासी व्‍यापारी की हीरानगर में किराने की दुकान है। दो दिन पहले परिजनों से रुद्रपुर जाने की बात कहकर कारोबारी अपने कारोबारी दोस्‍त अरमान के साथ चला गया। दोनों के बीच पैसों के लेनदेन का मामला बताया जा रहा है। आरोप है कि कारोबारी को फंसाने की नीयत से उसके दोस्‍त ने एक महिला के जरिए फोन कराया। महिला ने उसे मिलने के लिए रुद्रपुर बुलाया। इसके बाद कारोबारी अपने मित्र के साथ रुद्रपुर चला गया। महिला से मुलाकात के बाद अरमान सभी को लेकर बिलासपुर अपने एक दोस्‍त के फॉर्महाउस चला गया। वहां आरोपी के चार कथित दोस्‍त पहले से मौजूद थे। सबने मिलकर कारोबारी को अपहरण कर छोड़ने के एवज में दस लाख की डिमांड की। रकम नही मिलने पर जान से मारने की धमकी दी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here