अल्मोड़ा : इंजीनियरिंग का छात्र, होटल मैनेजर और ट्रांसपोर्टर स्मैक के साथ गिरफ्तार

अल्मोड़ा : उत्तराखंड में नशे का कारोबार बढ़ता जा रहा है। उत्तराखंड में सिर्फ मैदान ही नहीं बल्कि पहाड़ों में भी नशे की तस्करी बढ़ती जा रही है। नशे का कारोबार करने वालों के खिलाफ प्रदेश पुलिस अभियान चलाए है। बता दें कि इसी अभियान के तहत अल्मोड़ा की दन्या पुलिस को कामयाबी हासिल हुई है।

अल्मोड़ा की दन्या पुलिस ने 7 ग्राम स्मैक के साथ इंजीनियरिंग का छात्र,होटल मैनेजर और ट्रांसपोर्टर को गिरफ्तार किया है। तीनों के खिलाफ पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है। आरोपियों के पास से 40,500 रुपये नकद बरामद किए हैं। साथ ही पुलिस ये जानकारी जुटा रही है कि इनके किस किस के साथ लिंक हैं।

इस मामले एसएसपी पंकज भट्ट ने बताया कि दन्या पुलिस ने गश्त के दौरान बाग्गाड पुल बाटुली पर वाहन बुलेरो सवार तीन युवकों को 07 ग्राम स्मैक और स्मैक बेचकर कमाई गई धनराशि के साथ गिरफ्तार किया।तीनों युवक पुलिस को देख कर भागने का प्रयास कर रहे थे। तीनों के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया है।

थानाध्यक्ष दन्या सुशील कुमार ने बताया कि तीनों आरोपी बिलासपुर-रामपुर से स्मैक लाकर पिथौरागढ़ और अल्मोड़ा में वाहन से स्मैक तस्करी करते थे। वो कम समय में अधिक पैसा कमाना चाहते थे। पूछताछ में बताया कि वो स्मैक को छात्रों और चालकों को बेचते हैं। पकड़े गए आरोपी विशाल सुकोटी सुकोटी निवासी सुवाकोट पोस्ट वड्डा,पिथौरागढ़, राहुल लोहिया निवासी ग्राम तायल पोस्ट बमडोली बुंगाछीना पिथौरागढ़ और मनोज सिंह महर निवासी कुमैड पिथोरागढ़ को गिरफ्तार किया। पुलिस ने बताया विशाल सुकोटी सिविल इंजीनियरिंग का छात्र है। राहुल लोहिया होटल रेड&ब्लू में मैनेजर और मनोज सिंह महर बिल्डर्स और ट्रांसपोर्टर हैं। पुलिस ने वाहन को सीज किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here