उत्तराखंड: मालगाड़ी की चपेट में आने से हाथी के बच्चे की मौत, यहां का है मामला

देहरादून: वन क्षेत्रों के आसपास हाथियों के ट्रेन से मरने के मामले अक्सर सामने आते रहते हैं। ऐसा ही एक मामला रायवाला में सामने आया है। यहां मालगाड़ी की चपेट में आने से शिशु हाथी की मौत हुई है। देहरादून- हरिद्वार रेल ट्रैक पर हाथी अंडर पास पर यह घटना रात करीब डेढ़ बजे हुई। शिशु हाथी अंडरपास से होकर रेल ट्रैक को पार करके जंगल की तरफ जा रहा था।

घटना के बाद करीब आधा घंटा तक मालगाड़ी ट्रैक पर ही खड़ी रही। रेलवे की ओर से इसकी सूचना वन विभाग को दी गई। हरिद्वार-दून रेल ट्रैक पर मोतीचूर से लेकर कांसरो तक का करीब दस किमी क्षेत्र बेहद संवेदनशील है। परंपरागत गलियारा होने की वजह से यहां वन्य जीवों की आवाजाही अधिक है। लेकिन, उनकी इस स्वच्छंद आवाजाही में रेल ट्रैक सबसे बड़ी बाधा है। ऐसे में कई बार हादसे भी हो जाते हैं।

15 अक्टूबर 2016 को रायवाला के पास ट्रेन से टकराकर एक मादा हाथी की मौत हो गई थी। जबकि, 17 फरवरी 2018 को एक शिशु हाथी और 20 मार्च को इस ट्रैक पर मादा हाथी की मौत हुई। नौ मार्च 2018 को रायवाला के पास एक हाथी जख्मी हुआ। पार्क बनने से लेकर अब तक इस ट्रैक पर 29 हाथियों की मौत ट्रेन से टकराने के कारण हुई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here