शिक्षा मंत्री ने की ‘स्कूल की बात’ : अधिकतर शिक्षकों-अभिभावकों की स्कूल खोलने को लेकर ये है राय

देहरादून : कोरोना काल में स्कूल कॉलेज कई महीनों से बंद हैं। संक्रमण को देखते हुए अभिभावक बच्चों को स्कूल भेजने के पक्ष में नहीं है। कई राज्यों में स्कूल खुल गए हैं। वहीं उत्तराखंड में स्कूल खोलने को लेकर मंथन चल रहा है।इसी को लेकर आज शिक्षा मंत्री अरविंद पांडेय ने सरकारी स्कूल के शिक्षकों और अभिभावकों से संवाद किया।

7 हजार से अधिक शिक्षकों से किया शिक्षा मंत्री ने संवाद

आपको बता दें कि शिक्षा मंत्री अरविंद पांडे ने राजीव गांधी नवोदय विधायल में बने वर्चुवल क्लॉस रूम स्टूडियों से शिक्षकों और अभिभावकों से संवाद किया। शिक्षा मंत्री ने 7 हजार से ज्यादा शिक्षक और अभिभावकों से स्कूल खोलने न खोलने पर बात की। संवाद करने के बाद शिक्षा मंत्री अरविंद पांडेय ने बताया कि जो भी सुझाव शिक्षकों और अभिभावकों से मिलें हैं उन्हें 14 अक्टूबर की कैबिनेट बैठक में रखेंगे।

10वीं और 12वीं की कक्षाएं संचालित करने के सुझाव मिले- मंत्री

शिक्षा मंत्री ने बताया कि ज्यादातर शिक्षकों और अभिभावकों ने स्कूल खोलने को लेकर राय दी है। कहा कि 10वीं और 12वीं की कक्षाएं संचालित करने के शिक्षकों और अभिभावकों से सुझाव मिले हैं। शिक्षा मंत्री ने बताया कि अधिकांश शिक्षक चाहते है की स्कूल खुले। वहीं अब इस पर चर्चा अगली कैबिनेट में होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here