बड़ी खबर : JEE-NEET परीक्षा पर शिक्षा मंत्री निशंक का बयान, ठीक नहीं बेवजह विरोध और राजनीति

नई दिल्ली: JEE और NEET प्रवेश परीक्षा को लेकर देशभर में विरोध हो रहा है। इसको लेकर केंद्रीय शिक्षा मंत्री डॉ. रमेश पोखरियाल निशंक का बयान सामने आया है। निशंक ने कहा कि कोरोना महामारी के बीच हमारे लिए छात्रों की सुरक्षा और करियर अहम है। परीक्षाओं को पूर्व में दो बार स्थगित किया जा चुका है। उन्होंने कहा कि अधिकांश छात्र और उनके अभिभावक चाहते हैं कि परीक्षा निर्धारित समय पर हो। उन्होंने यह भी कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने भी अपने फैसले में कहा था कि हम छात्रों का साल बर्बाद नहीं कर सकते। केंद्रीय शिक्षा मंत्री निशंक ने कहा कि राजनीतिक दलों से इस मुद्दे पर बेवजह विरोध और राजनीति नहीं करने का आग्रह किया है।

केंद्रीय शिक्षा मंत्री निशंक ने बताया कि 80 प्रतिशत छोत्र जईई-नीट परीक्षा के एडमिट कार्ड डाउनलोड कर चुके हैं। JEE के लिए 8.58 लाख में से 7.50 लाख के आसपास एडमिट कार्ड डाउनलोड हो गए हैं, इसी तरह NEET के लिए 15.97 लाख में से, 10 लाख से अधिक छात्रों ने अपना एडमिट कार्ड डाउनलोड कर लिया है। उन्होंने बताया कि ज्यादातर मामलों में छात्रों की सुविधा के लिए परीक्षा केंद्रों को कई बार बदला गया है।

उन्होंने कहा कि छात्रों की सुरक्षा को ध्यान में रखकर केद्रों पर सुविधाएं दी जा रही हैं। सुरक्षा के सभी इंतजाम किये जा रहे हैं। निशंक ने कहा कि इस पर लोगों को राजनीति नहीं करनी चाहिए। छात्रों और अभिभावक परीक्षा कराने के पक्ष में हैं। छात्रों की सुरक्षा और करियर सरकार की प्राथमिकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here