उत्तराखंड बंगाली समुदाय को जारी प्रमाण पत्र में लिखा पूर्वी पाकिस्तानी शब्द, लोगों में आक्रोश

दिनेशपुर : उधमसिंह नगर के दिनेेशपुर में उत्तराखंड के बंगाली समुदाय के जाति प्रमाण पत्र पर फिर से पूर्वी पाकिस्तानी बांग्लादेशी शब्द लिखा आने से बंगाली समाज के युवाओं में आक्रोश है जिसके चलते दिनेशपुर के धर्मनगर गाँव में बंगाली एकता मंच के नेतृत्व में एक बैठक करते हुए कहा कि हमारा जन्म हमारे माता पिता का जन्म भारत में हुआ है और हम भारतीय हैं तो फिर हमारे जाति प्रमाण पत्र में पूर्वी पाकिस्तानी शब्द क्यों लिखा आता है

बंगाली समाज के लोगों ने सरकार से मांग करते हुए तत्काल जाति प्रमाण पत्र से पूर्वी पाकिस्तानी बांग्लादेशी शब्द हटाया जाए और उनके बंगाली समाज को आरक्षण दिया जाये. लोगों ने कहा कि अगर जल्द से जल्द हमारी मांगों को पूरा नहीं किया गया तो वो फिर से जन आंदोलन करने के लिए बाध्य होंगे.

आपको बता दें कि बंगाली समुदाय के जाति प्रमाण पत्र पर पूर्व पाकिस्तानी बांग्लादेशी शब्द को हटाने के लिए बंगाली समुदाय के विभिन्न संगठनों द्वारा कई बार धरना प्रदर्शन जन आंदोलन किया गया. इसी भाजपा सरकार द्वारा बंगाली समुदाय की जाति प्रमाण पत्र को संशोधन करते हुए पूर्वी पाकिस्तानी बांग्लादेशी शब्द को हटा दिया गया था लेकिन फिर से बंगाली समाज के जाति  प्रमाण पत्र पर पूर्वी पाकिस्तानी बांग्लादेशी शब्द लिखकर आ रहा है, जिससे बंगाली समाज के युवाओं में आक्रोश है. इसी के चलते हैं दिनेशपुर में एक बैठक कर सरकार से मांग की है कि तत्काल जाति प्रमाण पत्र सेे पूर्वी पाकिस्तानी शब्द हटा दिया जाए. अगर जल्द से जल्द पूर्वी पाकिस्तानी बांग्लादेशी शब्द नहीं हटाया तो फिर से बंगाली समाज के लोग एक जन आंदोलन का रूप लेगी और सड़क पर उतरकर आंदोलन करने के लिए बाध्य होगी

इस दौरान जिला पंचायत सदस्य पति जगदीश विश्वास ने कहा कि जब भी बंगाली समाज का कोई महिला या पुरुष चुनाव जीत जाता है तो अन्य समुदाय के लोग हमारे जाति प्रमाण पत्र पर पूर्व पाकिस्तानी बांग्लादेशी शब्द को लेकर आसानी से टारगेट करते हुए हमें बांग्लादेशी घुसपैठिया साबित करनेे की कोशिश करते हैं उस समय हमे बहुत शर्मिंदगी महसूस होती है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here