एक बार फिर भूकंप के झटके, डेढ़ महीने में 11वीं बार हुआ ऐसा, वैज्ञानिकों ने दी चेतावनी

पिछले डेढ़ महीने में दिल्ली सहित एनसीआर में 11 बार भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं जो की किसी बड़े खतरे की ओर इशारा कर रहा है। जी हां ये हम नहीं बल्की विशेषज्ञों का मानना हैष बता दें कि बुधवार को एक बार फिर से दिल्ली समेत एनसीआर में भूकंप के झटके महसूस किए गए हालांकि भूकंप की तीव्रता कम थी। भूकंप का केंद्र दक्षिण पूर्व नोएडा रहा। भूकंप की तीव्रता रिक्टर पैमाने पर 3.2 मापी गई।

आने वाले वक्त में यह एनसीआर के लिए बड़े खतरे का संकेत-विशेषज्ञ

वहीं लगातार आ रहे भूकंप पर विशेषज्ञों ने बड़े खतरे की ओर इशारा किया है। लगातार आ रहे भूकंप के पीछे विशेषज्ञों का मानना है कि आने वाले वक्त में यह एनसीआर के लिए बड़े खतरे का संकेत है। लोगों को सतर्क रहने की जरूरत है। बताया जा रहा है कि दिल्ली-एनसीआर में धरती के अंदर प्लेटों के एक्टिव होने से ऊर्जा निकल रही है, जिससे रह-रहकर झटके महसूस हो रहे हैं।

इस-इस दिन आया भूकंप

राष्ट्रीय भूकंप विज्ञान केंद्र के अनुसार दिल्ली-एनसीआर में 12, 13 और 16 अप्रैल को भूकंप के झटके लग चुके हैं। इसी तरह मई में भी भूकंप के झटकों के लगने का सिलसिला जारी रहा। 6, 10, 15 मई और 28 मई को दिल्ली-फरीदाबाद एनसीआर में झटके लगे। इसके बाद 29 मई को दो बार झटके लगे, जिसका केंद्र रोहतक रहा। वहीं आझ फिर भूकंप के झटके से लोग दहल गए।

सेंट्रल बिल्डिंग रिसर्च इंस्टीट्यूट रुड़की के वैज्ञानिक कहना है कि टेक्टोनिक प्लेटों के बीच हो रहे घर्षण से जो ऊर्जा निकल रही है, उसे चेतावनी मानकर भविष्य के लिए एहतियाती कदम उठाने जरूरी हैं। वैसे तो पांच मैग्नीट्यूड से कम क्षमता के भूकंप को खतरा नहीं माना जाता है, लेकिन दिल्ली एनसीआर में जिस तरह से कम अंतराल में छोटे-छोटे भूकंप आ रहे हैं, ऐसे में वैज्ञानिकों के सामने यह एक बड़ा सवाल है कि कहीं ये किसी बड़े खतरे का संकेत तो नहीं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here