विकासनगर के प्रतिष्ठित डाक्टर ने की आत्महत्या, लिखा, ‘अब जीने का मन नहीं’

dr hans raj arora
photo – jagran.com

देहरादून के पछवादून, जौनसार बावर, हिमाचल प्रदेश और विकासनगर इलाकों के जाने माने वरिष्ठ हृदय रोग विशेषज्ञ एवं फिजिशियन डॉ. हंसराज आरोड़ा ने शक्ति नहर में कूदकर जान दे दी। पुलिस ने उनके शव को नहर के ढकरानी जलविद्युत गृह के इंटेक से बरामद किया। उनकी कार भी लावारिस हालत में मिली है। उन्होंने अपने बेटे के व्हाट्सअप पर अपना सुसाइड नोट भेजा है।

विकासनगर से लेकर हिमाचल सीमा तक बेहद प्रसिद्ध और गरीब मरीजों के मसीहा वरिष्ठ हृदय रोग विशेषज्ञ एवं फिजिशियन डॉ. हंसराज आरोड़ा शनिवार की देर रात लगभग 12 बजे के आसपास अपनी कार में सवार होकर घर से निकले। काफी देर तक उनका कुछ पता नहीं चला। इसके बाद घर वालों ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने खोजबीन शुरु की तो उनकी कार लावारिस हालत में शक्ति नहर के पुल नंबर एक व दो के बीच से मिली।

देहरादून में कई दरोगाओं के तबादले, राजपुर थाना प्रभारी भी बदले गए

इसके बाद पुलिस ने शक्ति नहर में गोताखोरों की मदद से तलाश शुरु की। गोताखोरों ने उनके शव को नहर के ढकरानी जलविद्युत गृह के इंटेक से बरामद कर लिया। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

वहीं पुलिस को उनके बेटे ने अपने व्हाट्सअप पर भेजा गया डां. अरोड़ा का मैसेज भेजा है। जिसमें उन्होंने सुसाइड करने की बात लिखी है। उन्होंने बीमारी की वजह आत्महत्या बताया है।

शहर के वरिष्ठ हृदय रोग विशेषज्ञ एवं फिजिशियन डॉ. हंसराज आरोड़ा ने शक्ति नहर में कूदकर जान दे दी। शनिवार रात 12 बजे वह अपनी कार लेकर घर से निकले थे। पुलिस ने उनके शव को नहर के ढकरानी जलविद्युत गृह के इंटेक से बरामद करके पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। उन्होंने अपने बेटे के मोबाइल पर सुसाइड नोट भी भेजा था, जिसमें बीमारी को आत्महत्या का कारण बताया है। उन्होंने लिखा है कि, ‘बीमारी के कारण अब मेरी जीने की इच्छा नहीं है। मेरी मौत का कोई और जिम्मेदार नहीं है।’ हालांकि पुलिस मामले की जांच कर रही है।

पहले भी की थी कोशिश

बता दें कि हंसराज अरोड़ा एक बेहद जाने माने डाक्टर थे। उनका चिकित्सकीय अनुभव 45 वर्षों से अधिक का था। अपने मिलनसार व्यक्तित्व और जरूरतमंदों की मदद के लिए हमेशा तत्पर रहने के चलते वो बेहद लोकप्रिय भी थे। हालांकि पिछले कुछ दिनों से वो डिप्रेशन का शिकार हो गए थे। कुछ वर्षों पहले उनकी पत्नी की मौत हो गई थी। उनकी एक बेटी का भी कुछ दिनों पहले अमेरिका में कार दुर्घटना में निधन हो गया था। वो डाक्टर थी। उनकी एक अन्य बेटी भी अमेरिका में डाक्टर है। अपनी पत्नी और एक बेटी के निधन के बाद वो टूट गए थे। उन्होंने इससे पहले भी एक बार आत्महत्या की कोशिश की थी। उस समय भी नहर में कूद गए थे लेकिन आसपास के लोगों ने उनकी जान बचा ली थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here