दून विश्वविद्यालय के छात्रों ने राष्ट्रीय वाद विवाद प्रतियोगिता में लहराया परचम

देहरादून – 
दून विश्वविद्यालय ने जामिया मीलिया इस्लामिया में आयोजित राष्ट्रीय वाद विवाद प्रतियोगिता में पहला स्थान प्राप्त किया है।
अंतर-विश्वविद्यालयी डा. जाकिर हुसैन मेमोरियल डिबेट के सांतवें संस्करण में हिंदी, इंग्लिश और उर्दू में वाद-विवाद प्रतियोगिता आयोजित की गई। प्रतियोगिता का शीर्षक था – यह सभा मानती है कि वर्तमान युवा पीढ़ी नस्लीय या जातिवादी नहीं है।
दून विश्वविद्यालय के उज्जवल शर्मा, बी.एस.सी अर्थशास्त्र, तृतीय वर्ष और यशी सिंह, बी.ए जर्मन, प्रथम वर्ष ने हिंदी में पहला स्थान प्राप्त किया। वहीं, अभिनंदन गर्ग, एम.ए स्पानिश,  प्रथम वर्ष और आशुतोष श्रीवास्तव, बी.एस.सी अर्थशास्त्र, प्रथम वर्ष ने अंग्रेजी भाषा में तीसरा स्थान प्राप्त किया। हिंदी में पहला और अंग्रेजी में तीसरा स्थान हासिल होने पर प्रतियोगिता के अंत में दून विश्वविद्यालय को प्रथम स्थान प्राप्त हुआ।
दून विश्वविद्यालय की सांस्कृतिक समिति की सदस्य व मीडिया विभाग में असिस्टेंट प्रोफेसर आबशार अब्बासी ने बताया कि प्रतियोगिता में देशभर से 42 टीमों ने भाग लिया। हर दो सदस्यीय टीम को वाद-विवाद प्रतियोगिता के पक्ष और विपक्ष में बोलने के कहा गया। उत्तराखंड से भी दून विश्वविद्यालय और पंतनगर विश्वविद्यालय सहित कुल चार विश्वविद्यालयों ने प्रतियोगिता में हिस्सा लिया। ट्राफी के अलावा प्रथम स्थान प्राप्त करने वाली टीम को पांच हजार और तृतीय स्थान प्राप्त करने वाली टीम को दो हजार का नकद पुरस्कार भी मिला।
ट्राफी जीत कर लौटने के बाद छात्रों ने दून विश्वविद्यालय के कुलपति डा. सी.एस नौटियाल से मुलाकात की और अपने अनुभव साझा किए। डा. नौटियाल ने छात्रों को उनके उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए बधाई दी। साथ ही कहा कि इस तरह की राष्ट्रीय प्रतियोगिताओँ में पुरस्कार जीतना दून विश्वविद्यालय परिवार के लिए गर्व की बात है। विश्वविद्यालय छात्रों को इस तरह की प्रतियोगिताओं में भाग लेने लिए हर मुमकिम सहयोग प्रदान करेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here