बच्चों की बात मान गए “DM अंकल”, उनके दोस्तों को मिल गयी जमानत

नोएडा : बच्चों की मांग और मिन्नतों के बाद आखिरकार डीएम साहब मान ही गए। स्कूलों में छुट्टी के लिए डीएम का फर्जी आदेश जारी करने के मामले में पकड़े गए 12वीं के दो छात्रों को बुधवार को जमानत मिल गई। इसमें पुलिस ने बताया कि छात्रों का उद्देश्य आपराधिक नहीं था। पुलिस ने धोखाधड़ी की धारा भी हटा ली है। अब छात्रों पर आईटी एक्ट के तहत मुकदमा चलेगा।बाल किशोर न्याय बोर्ड के आदेश के बाद दोनों छात्रों को बाल सुधार गृह से घर भेज दिया गया। पुलिस ने अपनी जांच रिपोर्ट बाल किशोर न्याय बोर्ड को सौंपी थी।

मंगलवार को दोनों छात्रों के समर्थन में उनके स्कूल के छात्र-छात्राएं सामने आए थे और देर शाम तक डीएम आवास पर धरना दिया था। छात्र-छात्राओं ने हाथ जोड़कर और कान पकड़कर डीएम से माफी मांगी थी। इसके बाद यह मामला मीडिया व सोशल मीडिया में सुर्खियों में था। कोतवाली सेक्टर-20 पुलिस ने मंगलवार को दोनों छात्रों को बाल सुधार गृह भेज दिया था। इसके बाद सामाजिक संगठनों ने दोनों छात्रों को छोड़ने के लिए डीएम से बात भी की थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here