जिलाधिकारी राजेश कुमार ने किया आईएसबीटी का औचक निरीक्षण, पाई गई ये खामियां, चौकी प्रभारी को दिए निर्देश

देहरादून : जिलाधिकारी डाॅ आर राजेश कुमार ने आज आईएसबीटी का औचक निरीक्षण कर व्यवस्थाओं का जायजा लिया। इस दौरान उन्होंने विभिन्न स्थानों पर बनाये गये सैम्पलिंग प्वाइंट, सफाई व्यवस्था मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग की भी व्यवस्थाएं देखी। उन्होंनें बिना मास्क घूम रहे व्यक्तियों को चेतावनी जारी करते हुए मास्क लगाने को कहा।

जिलाधिकारी ने निरीक्षण के दौरान पाया कि कई लोग बिना मास्क घूम रहें जिस पर उन्होंने बस स्टैण्ड प्रबन्धकों एवं कार्मिकों सहित चौकी प्रभारी को दिन में समय-समय पर निरीक्षण करने और मास्क एवं सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन ना करने वालों के विरूद्ध चालान की कार्यवाही करने के निर्देश दिये। उन्होंनें सैम्पलिंग प्वाइंट पर सैम्पल लेने वाली टीमों को आईएसबीटी पर आने वाले प्रत्येक व्यक्तियों की सैम्पलिंग लेने के साथ ही पूर्ण पता एवं अनिवार्यतः यात्रा विवरण प्राप्त करने के निर्देश दिये।

उन्होंने सैम्पलिंग प्वांईट पर आने वाले व्यक्तियों को सोशल डिस्टेंसिंग के साथ कतार बनाते हुए सैम्पलिंग प्राप्त करने के साथ ही कतार में खडे़ प्रत्येक व्यक्ति का अनिवार्यः मास्क पहना हो इसके लिए आएसबीटी पुलिस चैकी से सहायता लेने को कहा। उन्होंने आएसबीटी पर सैम्पलिंग का कार्य कर रही अंजली लैब की संचालिका रेखा को सैम्पलिंग के दौरान बुखार की स्थिति जांचने के लिए थर्मल स्कैनर रखते हुए लक्षण वालों संक्रमित व्यक्तियों का पूर्ण विवरण प्राप्त कर स्वास्थ्य विभाग को सूचित करने के निर्देश दिए। आज आईएसबीटी पर स्थापित 3 सैम्पलिंग केन्द्रों पर निरीक्षण के समय तक 495 यात्रियों के एन्टीजन टैस्ट किये जाने की जानकारी दी गई।

जिलाधिकारी ने निरीक्षण के दौरान शौचालयों में साफ-सफाई ना होने पर नाराजगी प्रकट करते हुए इसमें तत्काल सुधार लाने के निर्देश दिये। निरीक्षण के दौरान बताया गया आईएसबीटी में दुकानों का प्रबन्धन एवं शौचालय एवं परिसर की स्वच्छता का कार्य रैम्पकी कम्पनी कर रही है, जिस पर उन्होंने रेम्पकी के उपस्थित कार्मिकों को बुलाकर सफाई व्यवस्था सुचारू रखने तथा दिन में समय-समय पर सफाई, सेनिटाइजेशन का कार्य करवाने के निर्देश दिये।

निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी ने पाया कि रोडवेज की अधिकतर बसों में फस्ट एड बाक्स नहीं थे जिस पर उन्होंने असंतोष जताते हुए बसों में फस्र्ट एड किट रखने तथा मौके पर मौजूद कार्मिकों को निर्देशित किया कि सभी बसों में अनिवार्यतः फस्र्ट एड बॉक्स लगा हो। ताकि आपातकाल समय में प्राथमिक उपचार किया जा सके। इस सम्बन्ध में जिलाधिकारी ने रोडवेज के जी.एम दीपक जैन से दूरभाष पर वार्ता कर व्यवस्थाओं में सुधार लाने की बात कही।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here