UK नंबर की कार से 28 देशों की यात्रा कर पेरिस पहुंचे लाभांशु, एफिल टावर के सामने लहराया तिरंगा

देहरादून : कहते हैं ना हौसले बुलंद हो तो कुछ भी नामुमकिन नहीं. ऐसे ही कुछ नामुमकिन सा काम को मुमकिन कर दिखाया है ऋषिकेश निवासी लाभांशु शर्मा ने.

उत्तराखंड के नंबर की कार से पेरिस पहुंचे लाभांशु

दरअसल विश्व शांति का संदेश लेकर कुश्ती चैंपियन लाभांशु शर्मा उत्तराखंड के नंबर की कार से पेरिस पहुंचे और पेरिस में एफिल टावर के सामने उत्तराखंड के नंबर की गाड़ी खड़ी कर देश का झंडा लहराया. प्रदेश सहित पूरे देश के लिए ये गर्व की बात है कि हमारे देश में राज्य में लाभांशु जैसे होनहार युवा भी हैं जो कि देश की शांति के लिए और अच्छा संदेश देने के लिए इतनी मेहनत कर रहे हैं. आपको बता दें कि कुश्ती चैंपियन लाभांशु शर्मा अगस्त महीने से पूरी दुनिया की यात्रा करने निकले हैं जिन्होंने पेरिस पहुंचकर तिरंगा लहराया.

राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री कर चुके हैं सम्मानित

आपको बता दें कि लाभांशु को राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री भी सम्मानित कर चुके हैं. ऋषिकेश के रहने वाले कुश्ती चैंपियन लाभांशु इस यात्रा के लिए सालों से तैयारियां कर रहे थे. ऐसा पहली बार हुआ है कि उत्तराखंड से कोई लगभग 100 देशों की यात्रा करने अपने ही कार से निकला हो.

लाभांशु ने शेयर किया वीडियो, 28 देशों की यात्रा कर पेरिस पहुंचे

लुभांशु ने पेरिस से एक वीडियो बनाकर शेयर की है जिसमे वो अपनी कार और कार के नंबर को दिखा रहे हैं और डांस भी कर रहे हैं. इस दौरान वो कई देशों के देवदूतों से भी मिले हैं. आप वीडियो में देख सकते हैं कि लाभांशू शर्मा अपनी कार पर तिरंगे का स्टीकर बनवाए हुए हैं और साथ ही विश्व शांति के अनोखे मैसेज अपनी कार पर कई भाषाओं में लिखवाए हुए है. आफको बता दें कि लुभांश ने ये यात्रा देहरादून से शुरु की थी.जो 28 देशो की यात्रा कर पेरिस पहुंचे हैं. भारतीय कार से लुभांश ने 25 हजार किलोमीटर का सफर तय किया. एफिल टॉवर के सामने उत्तराखंड नंबर की कार खड़ी करके लाभांशु को काफी गर्व महसूस हो रहा है. उनका कहना है कि अभी सफर बहुत लंबा है और सभी पलों को वो सबके साथ साझा करेंगे.

हमें गर्व है लाभांशु जैसे युवाओं पर जो की देश ही नहीं पूरी दुनिया में शांति का संदेश लेकर अपनी मंजिल की ओर अग्रसर हैं. हम लाभांशु को बधाई देते हैं और उनके उज्जवल भविष्य की कामना करते हैं.

3 COMMENTS

  1. Ab hamara Uttarakhand kanhi se v poche nahi hee or hamare Uttarakhand me bahut sare tilent hnee Jo samya samya par apni upyougta Sarthak karte hnee…Jai Bharat ..Jai Uttarakhand….

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here