मंदिर की चार दिवारी बनाने को लेकर दो समुदायों के बीच विवाद, चले लाठी-डंडे, कई गिरफ्तार

हरिद्वार : लक्सर कोतवाली क्षेत्र के बाड़ी टिप गांव में मंदिर की चार दिवारी बनाने को लेकर दो समुदायों के बीच विवाद हुआ। इस विवाद में जमकर लाठी-डंडे चले। जिसमे आधा दर्जन लोग घायल हो गए। सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया।

आपको बता दें लक्सर कोतवाली के बाड़ी टीप गांव में एक काली मंदिर स्थित है। इस मंदिर की चार दिवारी का निर्माण कराया जा रहा था। तभी विशेष समुदाय के कुछ युवक आए और आपत्ति जताने लगे। इसी बीच विवाद बढ़ गया विवाद इतना बड़ा के जमकर पथराव हुआ और लाठी-डंडे चले। जिसके चलते आधा दर्जन लोग घायल हो गए। सूचना पर भारी पुलिस फोर्स मौके पर पहुंचा और चारों और पुलिस फोर्स तैनात की गई। वहीं घायलों को पुलिस द्वारा इलाज के लिए जिला अस्पताल भिजवाया गया है और कुछ शरारती तत्वों को पुलिस ने हिरासत में लिया है।

बॉडी टिप गांव में चल रहा काली मंदिर की चारदीवारी का काम 

वहीं मौके पर पहुंचे बजरंग दल के सह संयोजक जिवेद्र तोमर ने बताया के बॉडी टिप गांव में काली मंदिर की चारदीवारी का काम चल रहा था। गांव के ही कुछ दबंगों ने मंदिर निर्माण का कार्य कर रहे लोगों पर हमला कर दिया। हमले में घायल लोगों को जिला चिकित्सालय हरिद्वार भेजा गया है। वहीं उन्होंने बताया कि जब तक मंदिर का निर्माण कार्य पूरा नहीं होता बजरंग दल यहीं पर मौजूद रहेगा।

मौके पर पहुंचे बीजेपी विधायक स्वामी यतीश्वरानंद

वहीं मौके पर पहुंचे हरिद्वार ग्रामीण के विधायक स्वामी यतिश्वरानंद ने बताया कि मंदिर जीर्णोद्धार का काम चल रहा था जिसको क्षेत्र के एक हिस्ट्रीशीटर व खनन माफिया शराफत ने कुछ गुंडों के साथ मिलकर रुकवा दिया और यहां काम कर रहे लोगों के साथ मारपीट की। इन लोगों के पास अवैध हथियार भी है ऐसा बताया जा रहा है। स्वामी यतीश्वरानंद ने सभी शरारती तत्वों के खिलाफ उचित दंडात्मक कार्यवाही करने के लिए पुलिस को कहा है।

मौके पर पहुंचे एसपी राजन सिंह ने बताया के गांव का एक पुराने मंदिर की चारदीवारी बनाने का काम चल रहा था तभी कुछ लोगों ने अनावश्यक रूप से काम में बाधा पहुंचाई व मारपीट की घटना की सूचना पर पुलिस टीम मौके पर पहुंची है और शराफत नाम के व्यक्ति को गिरफ्तार कर लिया गया है वही शांति व्यवस्था बनाए जाने के बाद मंदिर का निर्माण कार्य चल रहा है उन्होंने बताया शांति व्यवस्था के खिलाफ सख्त से सख्त कार्यवाही की जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here