डायरेक्टर तक पहुंची गर्भवती की मौत के बाद मचे घमासान की लपटें

almorahहल्द्वानी/अल्मोड़ा- उत्तराखंड के हल्द्वानी स्थित सुशीला तिवारी अस्पताल में इलाज के दौरान गर्भवती महिला की मौत के बाद मचे घमासान की लपटें अस्पताल के डायरेक्टर तक पहुंची है। मानवाधिकार आयोग ने उन्हें दून तलब किया है।

बता दें अल्मोड़ा में रहने वाले व्यापार मण्डल उपाध्यक्ष दीपक वर्मा की पत्नी ललिता की 16 जून को सुशीला तिवारी अस्पताल हल्द्वानी में इलाज के दौरान मौत हो गई थी। वह प्रसव पीड़ा से परेशान थी। इस मामले में अल्मोड़ा से लेकर हल्द्वानी तक जमकर हंगामा हुआ था।

मानवाधिकार आयोग ने अस्पताल के डायरेक्टर एके पांडे को नोटिस जारी किया है और कहा है कि वह 26 सितम्बर को देहरादून में आयोग के समक्ष प्रस्तुत होंगे। साथ ही ललिता के इलाज से लेकर मौत तक की पूरी स्टेट्स रिपोर्ट भी साथ लाने को कहा है। बता दे कि मामले की मजिस्ट्रेटी और महिला आयोग भी जांच कर रहा है। मामले में मुख्यमंत्री हरीश रावत ने भी ज्यूडिशियल के लिए आदेश कर दिए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here