देहरादून : देश-प्रदेश के लिए पदक जीतकर लाने वाली अंतरराष्ट्रीय शूटर गांधी पार्क के बाहर नमकीन बेचने को मजबूर

देहरादून : देश-प्रदेश के लिए कई राष्ट्रीय-अंतरराष्ट्रीय पदक जीतकर लाने वाली दून की दिव्यांग शूटर दिलराज कौर आज नमकीन-बिस्किट बेचने को मजबूर है। बता दें कि देहरादून की दिव्यांग शूटर दिलराज कौर के नाम विभिन्न प्रतियोगिताओं में 24 स्वर्ण, आठ रजत और तीन कांस्य हैं। उन्होंने उत्तराखंड स्टेट शूटिंग चैंपियनशिप में 2016 से 2021 तक चार स्वर्ण पदक जीते। इसके अलावा अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिता में भी एक रजत पदक हासिल किया।

हैरानी तब हुई जब अंतरराष्ट्रीय शूटर दिव्यांग देहरादून स्थित गांधी पार्क नमकीन बेचते हुए नजर आई। यह देख हर कोई हैरान हो गया कि कभी देश और प्रदेश काा नाम अंतरराष्ट्रीय स्तर पर रोशन करने वाली दिलराज जीवन यापन करने के लिए बिस्किट नमकीन बेचने को मजबूर है। जब कोई खिलाड़ी देश प्रदेेश के लिए पदक जीत कर लाता है तो सरकार उसका मनोबल बढ़ाने के लिए कई तरह के दावे करती है नौकरी देती है लेकिन उत्तराखंड में नौकरी तो छोड़िए सरकार ने एक महान खिलाड़ी के खेल पर भी ध्यान नहीं दिया बल्कि उसकी दुर्दशा देखने को मिली।

जानकारी मिली है कि दिलराज कौर ने बीते 15-16 साल में निशानेबाजी में राष्ट्रीय ही नहीं, अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भी देश और प्रदेश का मान बढ़ाया है। इसके बदले में सरकार उन्हें एक अदद नौकरी तक उपलब्ध नहीं करा पाई। अब वह नमकीन-बिस्किट की अस्थायी दुकान के सहारे अपना जीवन यापन कर रही है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here