धर्मनगरी हरिद्वार में होगा ज्ञान महाकुंभ का आयोजन

हरिद्वार : धर्मनगरी हरिद्वार में अक्टूबर-नवंबर 2018 के बीच ज्ञान महाकुंभ का आयोजन किया जाएगा। उच्च शिक्षा राज्यमंत्री धन सिंह रावत ने मंगलवार को पतंजलि विश्व विद्यालय में आयोजित वार्षिकोत्सव में यह जानकारी दी।

बताया कि ज्ञान महाकुंभ के आयोजन का उद्देश्य भारतीय पारंपरिक ज्ञान, शिक्षा, शिक्षा पद्धति, सांस्कृतिक धरोहर और संस्कृति को बढ़ावा देना है। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने पत्रकारों से बातचीत में ज्ञान महाकुंभ को अद्वितीय प्रयोग बताया। कहा कि इससे राज्य में शिक्षा के स्तर को उन्नत करने और भारतीय पारंपरिक ज्ञान को बढ़ावा देने का माहौल तैयार होगा। इसे हर वर्ष करने की कोशिश की जाएगी।

उच्च शिक्षा राज्य मंत्री धनसिंह रावत ने बताया कि ज्ञान महाकुंभ में देश के सभी विश्वविद्यालयों और प्रमुख महाविद्यालयों को आमंत्रित किया गया है। साथ ही देश भर के एक हजार से अधिक कुलपतियों को इसमें भाग लेने के लिए आमंत्रित किया जा रहा है। बताया कि राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री को इसके शुभारंभ और समापन समारोह में बतौर मुख्य अतिथि आमंत्रित किया जा रहा है।

हरिद्वार में यह कार्यक्रम अक्टूबर-नवंबर के मध्य आयोजित किया जाएगा, तिथि अभी निर्धारित नहीं की गई है। पतंजलि योगपीठ में होने वाले इस कार्यक्रम के लिए योगगुरु बाबा रामदेव और आचार्य बालकृष्ण की सहमति ले ली गई है। उनसे स्थान की उपलब्धता की तिथि मिलते ही ज्ञान महाकुंभ की तिथि निर्धारित करते हुए सभी अतिथियों को आमंत्रित करने का काम शुरू किया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here