दिल्ली के दंगे हमारे माथे पर एक काला धब्बा, सत्ता राजनीति करने में तुली : हरीश रावत

दिल्ली हिंसा को लेकर कांग्रेस प्रतिनिधिमंडल ने गुरुवार को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को ज्ञापन सौंपा। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के नेतृत्व में भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के एक प्रतिनिधिमंडल ने राष्ट्रपति भवन में राष्ट्रपति से मुलाकात के बाद ज्ञापन सौंपा। इस दौरान हरीश रावत भी मौजूद रहे। इतना ही नहीं हरीश रावत ने सोशल मीडिया के जरिए भी केंद्र की मोदी सरकार और भाजपा पर वार किया।

हरीश रावत ने लिखी पोस्ट

वहीं हरीश रावत ने फेसबुक पोस्ट के जरिए केंद्र की भाजपा सरकार पर दिल्ली की भयानक स्थिति पर भी राजनीति करने का आरोप लगाया। हरीश रावत ने पोस्ट लिखी कि दिल्ली की भयावह स्थिति निरन्तर बिगड़ती जा रही है। शासन तंत्र परिस्थितियों पर नियंत्रण पाने में पूर्णतः विफल हो गया है। दंगाई, खुलकर खेल रहे हैं, वर्तमान स्थिति के लिये, दोषी पूर्व विधायक के खिलाफ अभी तक कोई कार्यवाही नहीं की गई है। लगभग दो दर्जन निर्दोष लोगों की हत्या के लिये कौन जिम्मेदार है? अरबों की सम्पत्ति स्वाह हो गई है, सैकड़ों लोग घायल हुये हैं, कुछ लोग जीवन और मृत्यु के बीच में संघर्ष कर रहे हैं। फिर भी सत्ता राजनीति करने में तुली है। कांग्रेस, हम सब शान्ति की अपील करते हैं। दिल्ली हमारा गौरव है। दिल्ली के दंगे हमारे माथे पर एक काला धब्बा है। शीघ्र शान्ति लौटे, इसकी सबको चेष्टा भी करनी चाहिये, कामना भी करनी चाहिये।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here