देहरादून : नहीं पहुंची वैक्सीन, कई वैक्सीनेशन सेंटरों पर लगा ताला

देहरादून : सरकार ने वैक्सीनेशन अभियान जोरों शोरों से चलाने और हर व्यक्ति को वैक्सीन लगाने का दावा किया ताकि कोरोना के संक्रमण से बचा जा सके लेकिन अब वैक्सीन की कमी के कारण कई सेंटर बंद कर दिए गए हैं। जी हां वैक्सीन न पहुंचने के कारण कई वैक्सीनेशन सेंटरों पर ताला लग गया है। आपको बता दें कि कोरोना वैक्सीन न मिलने से डोईवाला के 9 सेंटरों में ताले लग गए हैं। इससे वैक्सीनेशन सेंटरों से लाभार्थियों को निराश वापस लौटना पड़ा। विभाग ने कोरोना वैक्सीन की बची हुई डोज से किसी तरह तीन सेंटरों में लाभार्थियों का टीकाकरण किया।

सबसे बड़े वैक्सीनेशन सेंटर बंद

हालात ये हो गए हैं कि लोगों को स्लॉट तक नहीं मिल पा रहा है। बड़े स्तर पर वैक्सीनेशन अभियान को चलाने का दावा करनेवाली सरकार सच्चाई से वाकिफ है कि नहीं ये नहीं मालूम लेकिन सच्चाई सेंटरों के गेट पर लटके तालों से साफ झलकती है। वहीं ऋषिकेश में भी सबसे बड़े वैक्सीनेशन सेंटर पर ताला लग गया है। कोराना वैक्सीन की खेप न मिलने से योगनगरी का सबसे बड़े वैक्सीनेशन सेंटर एसपीएस ऋषिकेश बंद हो गया

सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र डोईवाला के अंतर्गत 12 वैक्सीनेशन सेंटर संचालित किए जा रहे थे। रविवार को नौ सेंटरों को वैक्सीन नहीं मिल पाई। इसके कारण वैक्सीनेशन सेंटरों को बंद कर दिया गया। डोईवाला अस्पताल, दूधली और भानियावाला में सेंटरों में टीकाकरण किया गया। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के चिकित्सा अधीक्षक डॉ. केएस भंडारी ने बताया कि डोईवाला अस्पताल और दूधली में 100-100 और भानियावाला केंद्र पर 150 स्लाट दिए गए। वैक्सीन उपलब्ध होने पर सभी केंद्रों पर टीकाकरण शुरू हो जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here