देहरादून : 2 साल पहले बिहार से अगवा युवक विकासनगर में मिला, यमनोत्री छोड़ आए थे अपहरणकर्ता

देहरादून : दो साल पहले बिहार से अगवा एक युवक विकासनगर से सकुशल बरामद किया गया है। ये सूचना पुलिस ने बिहार पुलिस को दी जिसके बाद बिहार पुलिस ने ये जानकारी युवक के परिवार को दी तो उनकी खुशी का ठिकाना नहीं रहा। विकासनगर पुलिस ने युवक को बिहार पुलिस को सुपुर्द किया। बिहार पुलिस ने दून पुलिस को बताया कि युवक को 2019 में बिहार से अपरहण किया गया था और यमनोत्री छोड़ आए थे जिसकी तलाश लगातार जारी थी। जो की गुरुवार को मिला और बिहार पुलिस विकासनगर कोतवाली से युवक को अपनी सुपुर्दगी में ले गई।

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार साल 2019 में जितेंद्र कुमार (20) पुत्र इंदर सिंह निवासी साकील अगियो बाजार, जिला भोजपुर आरा, बिहार को बाबाओं के एक गिरोह ने अगवा कर लिया और उसे यमुनोत्री में लाकर छोड़ दिया गया था। बिहार पुलिस इस मामले में गुमशुदगी दर्ज कर आरोपित और अगवा युवक की तलाश कर रही थी। दो साल से अधिक समय बीत जाने के बाद आरोपित बिहार पुलिस के हत्थे चढ़ा और पुलिस ने पूछताछ के बाद उसे जेल भेज दिया। आरोपित से मिली जानकारी के आधार पर बिहार पुलिस अगवा युवक जितेंद्र की तलाश में विकासनगर कोतवाली पहुंची और पूरे घटनाक्रम की जानकारी देने के साथ कोतवाल प्रदीप बिष्ट से मदद मांगी।

कोतवाली पुलिस ने बिहार पुलिस को बताया कि किसी मंदिर में उसके होने की छानबीन शुरू की। तलाश के दौरान जितेंद्र गुडरिच के हनुमान मंदिर में मिला। उसकी पहचान की गई। बिहार पुलिस के एएसआइ मनोज कुमार ने बताया कि युवक को अगवा करने वाले आरोपित के विरुद्ध साल 2019 में मुकदमा दर्ज किया गया था। उसकी तलाश लगातार जारी थी। इसी बीच वह जिला भोजपुर बिहार में गिरफ्तार कर लिया गया।

उससे पूछताछ की गई तो बताया कि उसने जितेंद्र को यमुनोत्री धाम में छोड़ दिया था, जहां पर वह एक आश्रम में संत के पास रहता था। इस बीच वह यमुनोत्री से विकासनगर क्षेत्र में आ गया और मंदिर पर रहने लगा। सूचना के आधार पर उनकी टीम कोतवाली विकासनगर पहुंची और स्थानीय पुलिस की मदद से युवक को बरामद कर लिया। कोतवाल प्रदीप बिष्ट ने बताया कि बिहार पुलिस के सहयोग के लिए थाना स्तर से टीम गठित की गई। यह टीम अलग-अलग क्षेत्र में तलाश कर रही थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here