देहरादून। अवैध संबंधों के चलते हुई थी हत्या, गुच्चू पानी मेें हुए मर्डर का खुलासा

gucchu pani murder case solved dehradun police dehradun newsदेहरादून के गुच्चूपानी इलाके में मिले ई रिक्शा चालक के शव की गुत्थी पुलिस ने सुलझा ली है। पुलिस ने इस मामले में मृतक की पत्नी समेत पांच लोगों को गिरफ्तार किया है। हत्या अवैध संबंधों के चलते की गई।

दो लाख में ली सुपारी

आपको बता दें कि 29 तारीख को गुच्चू पानी इलाके में मोहिसिन नाम के एक ई रिक्शा चालक का शव मिला था। शव के पास से शराब की बोतलें भी मिली थीं। पुलिस ने इस मामले में मृतक की कॉल डिटेल्स निकाली तो एक संदिग्ध नंबर मिला। संदिग्ध नंबर का पता लगाने पर नंबर बागपत के अरशद का निकला। मोबाइल लोकेशन के आधार पर पुलिस ने अरशद को देहरादून के बल्लूपुर चौक के पकड़ लिया। पूछताछ में अरशद ने पूरी कहानी बता दी।

पुलिस को मिली जानकारी के अनुसार अरशद को किसी रईस खान ने मोहसिन को मारने की 2 लाख रुपए में सुपारी दी थी। रईस खान, मोहसिन की पत्नी शीबा और उसके दोस्त साबिर का परिचित है। पुलिस को ये भी पता चला कि शीबा और साबिर के बीच अवैध संबंध हैं और इस बात का पता मोहसिन को भी था। अरशद ने बताया कि उसने अपने दो दोस्तों रवि और शाहरुख के साथ मिलकर मोहसिन की हत्या की है।

एडवांस लिए बीस हजार

पुलिस को पता चला कि सुपारी की एडवांस किश्त के तौर पर अरशद को बीस हजार रुपए दिए गए थे और बाकी के पैसे लेने के लिए वो बल्लूपुर आया है। इसके साथ ही शाहरुख और रवि भी जल्द पहुंचने वाले हैं। पुलिस ने इंतजार किया और शाहरुख और रवि को भी वहां पहुंचने पर अरेस्ट कर लिया।

अवैध संबंधों के चलते रची साजिश

इसके बाद तीनों निशानदेही पर पुलिस ने मोहसिन की पत्नी शीबा और साबिर को भी उसके घर से गिरफ्तार कर लिया। पुलिस को पता चला कि मोहसिन और शीबा की तकरीबन आठ साल पहले शादी हुई थी। मोहसिन शराब पीता था और शीबा के साथ मारपीट करता था। दोनों के बीच आए दिन झगड़ा होता। इसी बीच शीबा और पड़ोस में रहने वाले साबिर के साथ अवैध संबंध बन गए। शीबा कुछ दिनों के लिए रुड़की में अपने परिचित के घर रहने चली गई। बाद में मोहसिन के परिजनों के कहने पर वो वापस आई। वापस आने के बाद उसके और साबिर के बीच फिर से अवैध संबंध बनने लगे। मोहसिन लगातार इस बात का विरोध कर रहा था। इसी बीच शीबा और साबिर ने मोहसिन को रास्ते से हटाने की साजिश रची। शीबा और मोहसिन के दो बच्चे हैं।

पुलिस को मिली जानकारी के अनुसार साबिर ने हत्या कराने के लिए अपने परिचित रईस खान से संपर्क किया। रईस ने ही हत्यारों से मुलाकात कराई। साजिश के तहत सुपारी किलर अरशद, शाहरुख और रवि बागपत से विकासनगर आकर एक लॉज में रुके। वहां से रईस से मिलने मेहूंवाला आए। वहीं रईस ने मोहसिन का ई रिक्शा दिखाया। तीनों ने मोहसिन का ई रिक्शा बुक किया और बुद्धा टेंपल घूमने गए। इसी दौरान उन्होंने मोहसिन का मोबाइल नंबर ले लिया। अगले दिन तीनों ने मोहसिन को ई रिक्शा के साथ बुलाया और गुच्चू पानी घूमने गए। इसी बीच तीनों ने ठेके से शराब खरीदी। इसी दौरान शाम का धुंधलका छाते ही मोहसिन की पत्थरों से मारकर हत्या कर दी। इसके बाद तीनों आईएसबीटी पहुंचे और वहां से ओला कैब के जरिए शामली पहुंच गए। वहां से बागपत गए। इसके बाद वो अपने बचे हुए पैसे लेने देहरादून आए लेकिन पुलिस ने उन्हें पकड़ लिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here