देहरादून : ज्यादा पैसा कमाने की चाह ने बनाया सटोरी फिर बना ज्वैलरी चोर, यूपी से गिरफ्तार

देहरादून : देहरादून के कमल ज्वैलर शो रुम से लाखों की ज्वैलर लेकर फरार शो रुम के कर्मचारी को यूपी के मुरादाबाद से गिरफ्तार करने में उत्तराखंड पुलिस ने सफलता पाई.

 11,15000 कीमत की ज्वैलरी लेकर हो गया था फरार

दरअसल 1 जुलाई को कमल रस्तोगी जो की पार्टनर कमल ज्वैलर्स 10 ऐश्लेहाल, देहरादून ने चौकी धारा पर लिखित शिकायत दी कि वो कमल ज्वैलर्स में पार्टनर है औऱ उनके शो रुम में काम करने वाला कर्मचारी पूरण थापा 26 जून की रात शो रूम से लाखों की ज्वैलरी(कीमत 11,15000) लेकर फरार हो गयी. शिकायतकर्ता ने बताया कि कर्मचारी पूरण ने उनसे कहा कि वो ये ज्वैलरी किसी ग्राहक को दिखाने के लिए ले जा रहा है, लेकिन फिर वो लौटकर नहीं आया. इस बारे मे जब मैंने उसकी पत्नी से पूछा तो उसने बताया कि पूरन उसके भी ज्वैलरी बेचकर सट्टे में लगा चुका है और अभी वह कर्ज से बहुत परेशान था.

ऑनलाइन सट्टा लगाता था आरोपी, कर्ज में था डूबा

इस सूचना पर चौकी धारा पर मुकदमा दर्ज किया गया और जिसके बाद पुलिस अधीक्षक नगर और सीओ सिटी के नेतृत्व में एक टीम का गठन किया गया. टीम ने आरोपी के सभी रिश्तेदारों से पूछताछ की. पुलिस को जानकारी मिली कि कुछ सालों से यह ऑनलाइन सट्टे का काम कर रहा था, जिसमे नुकसान होने पर कर्ज हो गया था. जिस कारण यह ज्वैलरी लेकर फरार हो गया. इसकी तलाश के लिए पुलिस सूत्रों को भी आवश्यक दिशा निर्देश देकर लगाया गया, तो जानकारी मिली कि पूरण थापा सिद्धार्थनगर उत्तर प्रदेश नेपाल बॉर्डर से नेपाल भागने की फिराक में है. इस सूचना पर तत्काल एक टीम उप0निरी0 दीपक धारीवाल के नेतृत्व में रवाना की गई, टीम को सिद्धार्थ नगर पहुचने पर सूत्रों व सर्विलांस की मदद से जानकारी मिली कि वह मुरादाबाद चले गया है, जिस पर टीम द्वारा इसका पीछा करते हुए मुरादाबाद पहुंचे और शतप्रतिशत ज्वैलरी के साथ मुरादाबाद से गिरफ्तार किया. अभियुक्त को आज मान. न्यायालय पेश किया जा रहा है।

ज्यादा पैसा कमाने की इच्छा ने बनाया सटोरी फिर बना चोर

पूछताछ में आरोपी पूरण थापा ने बताया कि यह मूल रूप से उत्तरकाशी का रहने वाला है…2 वर्ष की आयु से कमल ज्वैलर्स के यहां काम कर रहा था, विकासनगर में कुछ साल पहले ही घर बनाया है, वर्तमान में परिवार धामावाला में रह रहा है. ज्यादा पैसा कमाने के लालच में करीब दो साल पहले से क्रिकेट में ऑनलाइन सट्टा लगाना सुरु कर दिया था शुरू में अच्छा काम चला किंतु बाद में नुकसान होने लगा करीब 8 लाख रुपये कर्ज हो गया था, जिनका पैसा था वह रोज़ तकाजा कर रहे थे, बहुत परेशान हो गया था तो एक दिन सोचा कि ज्वैलरी शो रूम से ही ज्वैलरी ले जाकर बेचकर पैसा बापस कर दूंगा. यही सोचकर शो रूम से ज्वैलरी लेकर सिद्धार्थ नगर उत्तर प्रदेश बॉर्डर पर पहुंचा था.

ज्वैलरी बेचने नेपाल जा रहा था 

आरोपी ने बताया कि वो नेपाल जा रहा था लेकिन किसी ने बताया कि सोने का सही रेट नहीं मिल पायेगा तो में वहां से सीधा मुरादाबाद पहुंचा. यहां से आरोपी के कुछ परिचित थे उन्ही को ज्वैलरी बेचने जा रहा था लेकिन उससे पहले पकड़ा गया, इस बात की मेरे परिवार में किसी को भी कोई जानकारी नहीं थी और न ही मैंने इस योजना के बारे में किसी को बताया था. आरोपी ने बताया कि मेरे मालिक मुझ पर बहुत विश्वास करते थे। जिसका मैन फायदा उठाया हैं. इससे पह लेभी मैं कस्टमर्स को ज्वैलरी दिखाने ले जाता रहा हूं, इसलिए मालिकों को मुझ पर पूरा विश्वास था. इसके द्वारा अन्य महत्वपूर्ण तथ्यों के संबंध में भी जानकारी दी गयी हैं, जिसका परीक्षण/विश्लेषण कर विवेचना में सम्मिलित कर आवश्यक वैधानिक कार्यवाही की जाएगी।

गिरफ्तार अभियुक्त का नाम पता 

पूरण थापा पुत्र छोटे लाल नि0 ग्राम चिल्लियॉ तहसील विकासनगर, देहरादून। उम्र 32 वर्ष।

बरामदगी का विवरण

  1. दो सोने की चैन बजनी 140.32 ग्राम व 55.90 ग्राम
  2. ब्रशलेट बजनी 68.91 ग्राम
  3. दो जेंट्स अंगूठी बजनी 9.98 व 11.04 ग्राम (कुल आभूषणों का बजन 286.65 ग्राम कीमती करी 11,15000 रुपये।)

पुलिस टीम

1- शेखर सुयाल co सिटी देहरादून

2-प्रभारी निरीक्षक एस0एस0 नेगी

3-व0उप0निरीक्षक अशोक राठौड़

4-उप0निरी0 दीपक धारीवाल

5-कानि0 लोकेंद्र उनियाल

6-कानि0 अरशद अली

7-कानि0 देवेंद्र sog

8-कानि0 प्रमोद sog (तकनीकी सहायक)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here