देहरादून : इस बार IMA की पासिंग आउट परेड में शामिल नहीं होंगे कैडेट्स के परिजन और विदेशी मेहमान

देहरादून : देहरादून स्थित आईएमए पासिंग आउट परेड में भी कोरोना का असर दिखाई देगा। जी हां इस बार की पासिंग आउट परेड बड़े ही सादे अंदाज में होगी। इस बार की परेड में भव्यता दिखाई नहीं देगी।

आपको बता दें कि आईएमए में कैडेट्स की 13 जून को पीओपी होनी है। आईएमए प्रबंधन ने 13 जून को होने वाली पीपीओ का आकार सीमित करने का फैसला लिया है। सबसे बड़ी बात ये है कि इस बार पीओपी में कैडेट्स के परिजन परेड में शामिल नहीं हो सकेंगे। इतना ही देश-विदेश के मेहमान भी परेड मेें मौजूद नहीं हो सकेंगे। आपको बता दें कि इस बार देहरादून पीओपी में शिरकत कर देश-विदेश के करीब 882 जेंटलमैन कैडेट्स पास आउट होने हैं लेकिन कोरोना संकट के कारण इसका असर पीओपी पर भी पड़ेगा। परेड में वो धूम देखने को नहीं मिलेगी।

बता दें कि साल में दो बार होने वाली आईएमए की पीओपी में कैडेट्स के परिजनों, रिश्तेदारों समेत देश विदेश के मेहमान शिरकत करते थे लेकिन भारत सरकार के स्वास्थ्य मंत्रालय के गाइड लाइन के अनुसार एक जगह पर अधिक लोग जमा नहीं हो सकते हैं। इस बार अकादमी प्रबंधन असमंजस की स्थिति में है। इस बार परेड भव्य नहीं होगी बल्की साधे अंदाज में होगी।

आईएमए के पीआरओ कर्नल अमित डागर ने बताया कि पीओपी में रक्षा मंत्रालय और स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी एडवाइजरी का पूरा पालन किया जाएगा। कोरोना के चलते आईएमए की परेड सीमित होगी। अधिकारी शामिल होंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here