भारतीय शेयर बाजार के महारथी राकेश झुनझुनवाला का निधन

rakesh jhunjhunwalaशेयर मार्केट के ‘बिग बुल’ राकेश झुनझुनवाला (Rakesh Jhunjhunwala) का 62 साल की उम्र में आज मुंबई के ब्रीच कैंडी अस्पताल में निधन हो गया है। राकेश झुनझुनवाला को भारत का वारेन बफेट भी कहा जाता था। ऐसा इसलिए कि उन्होंने सिर्फ 5000 रुपये से शेयर मार्केट में निवेश की शुरुआत की थी। अपने 37 साल के निवेश कैरियर में उन्होंने बेतहाशा दौलत कमाई। उनकी दौलत का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि वे अपने पीछे करीब 39,527 करोड़ की दौलत छोड़ गए हैं।

37 साल का सफर

बिग बुल राकेश झुनझुनवाला ने भारतीय शेयर बाजार में 37 साल से जमे थे। इसी साल जो 5 जुलाई को उन्होंने अपना 62वां जन्मदिन मनाया था।  उन्होंने साल 1985 में दलाल स्ट्रीट (Dalal Street) का सफर शुरू किया था, तब BSE सेंसेक्स 150 अंक के स्तर पर था। झुनझुनवाला ने निवेश की शुरुआत महज 5,000 रुपये से की थी। फोर्ब्स के मुताबिक, राकेश झुनझुनवाला (Rakesh Jhunjhunwala net worth) के पास 39,527 करोड़ रुपए की दौलत है। बीते एक साल में उनकी दौतल 15 फीसदी बढ़ी है।

TATA TEA ने कराई कमाई

राकेश झुनझुनवाला की पहली बड़ी कमाई Tata Tea के शेयर से हुई थी। इसमें उन्होंने साल 1986 में 5 लाख रुपये कमाया था। उन्होंने 43 रुपये की कीमत पर टाटा टी के 5,000 शेयर खरीदे, जो सिर्फ तीन महीनों के भीतर बढ़कर 143 रुपये हो गए थे। इससे उनके तीन गुना का मुनाफा हुआ था।

नवीनतम कॉर्पोरेट शेयर होल्डिंग के अनुसार, राकेश झुनझुनवाला और अपनी कंपनी के पास 25,842 करोड़ रुपये से अधिक मूल्य के 33 कंपनियों के स्टॉक  हैं। ट्रेंडलाइन के आंकड़ों के मुताबिक, ये शेयर टाइटन कंपनी, टाटा मोटर्स, स्टार हेल्थ एंड एलाइड इंश्योरेंस कंपनी, मेट्रो ब्रांड्स, फोर्टिस हेल्थकेयर, टाइटन,  नजारा टेक्नोलॉजीज, फेडरल बैंक, डीबी रियल्टी और टाटा कम्युनिकेशंस हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here