कांग्रेस का वार, कहा- मुख्यमंत्री जी अब चारों धामों में कोरोना भेजना चाह रहे हैं

देहरादून : उत्तराखंड में कोरोना का कहर बढ़ता जा रहा है। रविवार को उत्तराखंड में कोरोना मरीजों का आंकड़ा 1341 तक पहुंच गया है वहीं मरनें वालों की संख्या 13 हो गई है हालांकि इनमे से अधिकतर कई गंभीर बिमारियों से जूझ रहे थे। वहीं क्वारंटीन सेंटरों और कोरोना के बढ़ते मामलों को लेकर कांग्रेस सरकार पर हमलावर है।

कांग्रेस उपाध्यक्ष का त्रिवेंद्र सरकार पर वार

जी हां त्रिवेंद्र सरकार के 8 जून से चारधाम यात्रा शुरु करने के बयान पर कांग्रेस उपाध्यक्ष सूर्यकांत धस्माना ने वार किया और कहा कि क्या मुख्यमंत्री जी अब चारों धामों में कोरोना भेजना चाह रहे हैं। कांग्रेस उपाध्यक्ष ने कहा कि ऐसी परिस्तिथियों में इस यात्रा का सरकार के पास कोई ब्लू प्रिंट नहीं है कि कैसे यात्रा करवाई जाएगी। अभी राज्य औक देश में कोरोना संक्रमण नियंत्रण में नहीं है, बल्कि लगातार संक्रमण बढ़ रहा है और लोगों में डर का माहौल है।

सरकार नहीं बना कोई ठोस नीति- उपाध्यक्ष

उन्‍होंने कहा कि उत्तराखंड में कोरोना की रोकथाम के लिए सरकार कोई ठोस नीति नहीं बना पाई है और इस कारण संक्रमण लगातार बढ़ रहा है। अस्‍पतालों में मरीज भर्ती करने के लिए लंबा इंतजार करना पड़ रहा है और टेस्ट के 7000 सैंपल अभी बैकलॉग में नतीजों का इंतज़ार कर रहे हैं।

उन्‍होंने कहा कि चारों धामों के पंडा पुरोहित, यात्रा रूटों के व्यापारी अभी यात्रा शुरू करने के पक्ष में नहीं। चार धाम यात्रा में देश के हर प्रान्त से यात्री आता है, जो यात्री संक्रमण वाले राज्य से आएगा उसको क्या सरकार पहले 14 दिन क्‍वारंटाइन करेगी फिर यात्रा में भेजेगी। कितने यात्री किस वाहन में जा पाएंगे। ऐसे बहुत से सवाल हैं, जिनके बारे में स्पष्टता के बिना यात्रा खतरे से खाली नहीं है। उन्होंने कहा कि वर्तमान हालातों में तो यात्रा शुरू करवाने का मतलब कोरोना संक्रमण को फैलाने का पूरा इंतज़ाम करने जैसा ही होगा। कांग्रेस ने सरकार से इस फैसले पर फिर विचार करने की अपील की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here