कांग्रेस का हमला : कोरोना के डर से सरकार पिंजरे में कैद,13 जिलों में खोले जाएं टेस्टिंग सेंटर

देहरादून : कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने प्रेस वार्ता कर सरकार पर वार किया और विपक्ष की उपेक्षा करने का आरोप लगाया। कांग्रेस ने भाजपा सरकार को आड़े हाथ लेते हुए कहा कि राज्य सरकार किसी भी राजनीतिक दल से बातचीत नहीं करना चाहती है।

राज्य में कॉरेन्टाइन सेंटरों की स्थिति बदहाल है-प्रीतम

राज्य में कोरोना के बढ़ते मामलों पर सरकार को घेरते हुए प्रीतम सिंह ने कहा कि राज्य में कॉरेन्टाइन सेंटरों की स्थिति बदहाल है। सरकार को व्यवस्था सुधारने की जरुरत है। साथ ही  राज्य में टेस्टिंग की गति धीमी। कांग्रेस ने सरकार पर आरोप लगाया कि सरकार ने कोरोना महामारी से निपटने के लिए कोई तैयारी नहीं की। साथ ही टेस्टिंग लैब को लेकर हमला करते हुए कहा कि राज्य में मात्र 6 टेस्टिंग सेंटर है, सभी जिलों में ये व्यवस्था नहीं है जबकि हर जिले में टेस्टिंग लैब होनी चाहिए।

3 जिलों में टेस्टिंग सेंटर खोले जाएं- प्रीतम

प्रीतम सिंह ने आरोप लगाया कि सरकार दावे बहुत कर रही है, लेकिन धरातल पर कोई व्यवस्था नहीं है। प्रीतम सिंह ने राज्य के सभी 13 जिलों में टेस्टिंग सेंटर खोले जाने की बात कही।प्रीतम सिंह ने कहा कि एक तरफ जनता कोरोना वायरस से लड़ रहे हैं तो दूसरी तरफ केंद्र सरकार द्वारा बढ़ाये गए पेट्रोल,डीजल ओर रसोई गैस की बड़ी कीमतों से लड़ रहे हैं।

सरकार कोरोना के डर से पिंजरे में कैद हैं-प्रीतम

राज्य सरका पर हमला करते हुए प्रीतम सिंह ने कहा कि सरकार कोरोना के डर से पिंजरे में कैद हैं। 20 लाख करोड़ का पैकेज जनता कोसमझ नहीं आ रहा है कि इसका सरकार इस्तेमाल कहां कर रही है। कहा कि जनधन के खाते तो खुलवाए जा रहे हैं लेकिन उन खातों में रुपए नही आ रहे हैं। सरकार को समझ नही आ रहा है कि कोरोना की लड़ाई से कैसे लड़े।

वहीं बीते दिन कांग्रेस उपाध्य सूर्यकांत धस्माना ने भाजपा की ओर से कांग्रेस पार्टी पर कोरोना काल में राजनीति करने का आरोप लगाए जाने पर पलटवार करते हुए कांग्रेस ने सत्ताधारी बीजीपी से सवाल किया कि कोरोना जैसी वैश्विक महामारी के समय उत्तराखंड समेत देश भर में वर्चुअल रैलियां आयोजित करना राजनीति नहीं है तो क्या श्रीमद्भागवत का प्रवचन है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here