उत्तराखंड के लिए चिंता की बात, कोरोना के बढ़ते मामलों ने बिगाड़ा खेल, ये है पूरा मामला

देहरादून: राज्य में पिछले कुछ दिनों में प्रवासियों के आने के बाद से कोरोना के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। कोरोना के ज्यादातर मामले पहाड़ी जिलों में सामने आ रहे हैं। स्थिति ये है कि कोरोना के नये मरीजों की संख्या ठीक होने वालों से ज्यादा हो गई है। पिछले 10 दिनों में रिकवरी रेट 30 प्रतिशत तक घट गया है। जबकि संक्रमण रेट एक प्रतिशत तक जा पहुंचा है।

राज्य में बाहरी राज्यों से डेढ़ लाख प्रवासी अपने गांव लौटे हैं। सरकार का अनुमान है कि आने वाले प्रवासियों की संख्या पांच लाख तक पहुंच सकती है। ऐसे में प्रदेश में कोरोना संक्रमित मामले बढ़ सकते हैं। लाॅकडाउन-4 में रियायत के कारण कोरोना संक्रमित मामलों में तेजी आई है। चार मई को प्रदेश में संक्रमित मामलों की संख्या 60 जो बढ़कर अब 160 तक पहुंच गई है।

इतना ही नहीं राज्य में बडलिंग रेट भी तेजी से गिरा और ये 70 दिन से सीधे आठ दिन पर पहुंच गया। ठीक होने की दर 37 प्रतिशत हो गई है। अपर सचिव स्वास्थ्य युगल किशोर पंत का कहना है कि कोरोना संक्रमित मामले बढ़ने के कारण रिकवरी और डबलिंग रेट में कमी आई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here