लापता जवान की पत्नी से मिले सीएम, बोले-परिवार की आर्थिक मदद करेंगे

देहरादून : मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने आज देहरादून सैन्य अस्पताल में भर्ती 11वीं गढ़वाल राइफल्स के लापता जवान हवलदार राजेंद्र सिंह नेगी की पत्नी की कुशल क्षेम पूछी।

सरकार की ओर से हर संभव मदद का भरोसा

सीएम त्रिवेंद्र सिंह ने लापता जवान की पत्नी को सरकार की ओर से हर संभव मदद का भरोसा दिया। सीएम ने कहा कि रक्षामंत्री से मुलाकात में इस मुद्दे को गंभीरता से उठाया गया था और लापता जवान राजेंद्र नेगी की खोज के लिए सरकार हर संभव प्रयास कर रही है। सीएम ने मीडिया को दिए बयान में कहा कि समाचार पत्रों के माध्यम से पता चला है कि लापता जवान की तन्ख्वाह रोक दी गई है।ऐसे में सरकार परिवार के साथ है। जवान के परिवार की सरकार आर्थिक रुप से भी हर संभव मदद करेगी.

8 जनवरी की शाम से कश्मीर के गुलमर्ग में लापता हुए थे लापता

बता दें कि 8 जनवरी की शाम से कश्मीर के गुलमर्ग में लापता हुए जवान राजेन्द्र सिंह नेगी का आजतक कुछ पता नहीं चल पाया है. जवान के परिवार ने राज्य औऱ केंद्र सरकार से गुहार लगाई थी वो विंग कमांडर अभिनंदन की तरह उनके बेटे को भी वापस लाएं.

8 तारीख को हुई थी पत्नी से बात 

राजेन्द्र सिंह नेगी के परिवार में माता-पिता, पत्नी और तीन बच्चे हैं जिनका राजेन्द्र सिंह नेगी के गायब होने के बाद से रो-रोकर बुरा हाल है. राजेन्द्र से उनकी पत्नी राजेश्वरी देवी की बात आखिरी बार 8 जनवरी को सुबह 10 बजे हुई थी. राजेन्द्र ने पत्नी से कहा था कि गुलमर्ग के हालात बर्फ़बारी के बाद बेहद खराब है. उसके बाद से ही उनका फोन भी रिचार्ज न होने के कारण डिस्कनेक्ट हो गया था.बता दें कि  इसके बाद सेना 9 तारीख को उनके भाई को कर्णप्रयाग स्थित आवास पर जानकारी दी की 8 तारीख की रात से जवान का पता नहीं चल पा रहा है. इस ख़बर के बाद राजेन्द्र के भाई अपने माता-पिता को लेकर राजेन्द्र के दून स्थित आ‌वास पहुंचे जहां उनकी पत्नी और बच्चे रहते हैं. ख़बर सुनने के बाद से ही राजेन्द्र की पत्नी का बुरा हाल है. जवान की पत्नी का अब सब्र का बांध टूटता जा रहा है। जवान की पत्नी बीमार हो गई जिन्हें इलाज के लिए देहरादून मिलिट्री अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां सीेएम आज उनसे मिलने पहुंचे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here