पिता के इलाज के लिए सड़क पर चंदा मांग रहीं थी बेटियां, सीएम धामी का दिल पसीजा, दिए ये आदेश

cm dhami insure to treatment to haldwani girl child's father

 

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी का एक मानवीय चेहरा देखने को मिला है। उन्होंने हल्दवानी की सड़कों पर पिता के इलाज के लिए चंदा मांग रही दो बेटियों की पीड़ा को देखकर आहत मुख्यमंत्री धामी ने बेटियों के पिता के इलाज का जिम्मा उठाने का ऐलान किया है।

दरअसल हाल ही में सोशल मीडिया पर एक पोस्ट वायरल हुई। इस पोस्ट में दो बच्चियां अपने पिता के इलाज के लिए सड़क पर लोगों से आर्थिक मदद मांगती हुईं दिख रही थीं।

दरअसल इन बच्चियों के पिता का नाम गोपाल शर्मा है और वो हल्दवानी में रहते हैं। हाल ही में उन्हे ब्रेन हेमरेज हो गया और उन्हें दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में एडमिट करना पड़ गया।

बड़ी खबर। देहरादून से जाने वाली ये रोड बनेगी एलिवेटेड, सरकार ने बनाया प्रोजेक्ट

चूंकि गोपाल शर्मा आर्थिक रूप से बहुत मजबूत नहीं थे लिहाजा दो लाख रुपए इलाज में खर्च करने के बाद उनके परिवार के पास पैसे नहीं बचे। ऐसे में गोपाल शर्मा का इलाज प्रभावित होने लगा।

पिता का इलाज कराने के लिए आर्थिक मदद मांगने के लिए आखिरकार उनकी दो छोटी बच्चियों ने बीड़ा उठाया और सड़कों पर लोगों से पैसे मांगने निकली।

हल्दवानी की इन बच्चियों की तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हो गई। बात सीएम धामी तक भी पहुंची। इसके बाद सीएम धामी का दिल पसीज गया। दो बच्चियों को इस हालत में उनसे देखा नहीं गया। उन्होंने तत्काल संबंधित अधिकारियों को गोपाल शर्मा के समुचित इलाज का निर्देश दिया। यही नहीं सीएम धामी ने दिल्ली में तैनात एडिशनल रेजिडेंट कमिश्नर को भी सफदरजंग अस्पताल में भेज दिया और दिल्ली के अस्पताल के डाक्टरों से गोपाल शर्मा का हालचाल लिया और इलाज की व्यवस्था करा दी है।

इसके साथ ही सीएम ने दोनों बच्चियों को SOS Children Village में रखने का विकल्प भी दिया है। सीएम ने गोपाल शर्मा के परिजनों को आश्वस्त किया है कि बच्चों को कोई परेशानी नहीं होने दी जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here