उधमसिंह नगर में यूपी एसओजी और ग्रामीणों के बीच झड़प, महिला की मौत, दबिश के दौरान घटना

udham singh nagar kashipur up sog and localsयूपी में पचास हजार के इनाम खनन माफिया को तलाशते हुए उत्तराखंड की सीमा में पहुंची यूपी एसओजी की स्थानीय लोगों के साथ भिड़ंत हो गई। इस भिड़ंत में एक महिला की मौत हो गई जबकि कई पुलिस वाले घायल हो गए।

बताया जा रहा है कि पचास हजार रुपए के इनामी खनन माफिया जफर की तलाश में यूपी एसओजी बुधवार की शाम उत्तराखंड के उधम सिंह नगर के काशीपुर में कुंडा के भरतपुर गांव पहुंची। सादे वेश में पहुंची यूपी एसओजी को सूचना मिली थी कि जफर जसपुर के ज्येष्ठ उपप्रमुख भुल्लर के घर में छिपा हुआ है। इस सूचना पर पहुंची एसओजी ने जब भुल्लर के घर में घुसने की कोशिश की तो उसका भुल्लर के साथियों ने विरोध किया और इसी बीच हंगामा शुरु हो गया। हंगामे के दौरान ही बड़ी संख्या में स्थानीय लोग पहुंच गए।

यूपी एसओजी के साथ ही पीछे पीछे यूपी के ठाकुरद्वारा पुलिस भी पहुंच गई। इसके बाद स्थानीय लोगों ने यूपी पुलिस और एसओजी को घेर लिया। दोनों पक्षों में भिड़ंत शुरु हुई और गोलियां चलने लगीं। इसी गोलीबारी में ज्येष्ठ उपप्रमुख गुरताज सिंह भुल्लर की पत्नी गुरजीत कौर की मौत हो गई। वहीं दूसरी ओर यूपी के छह पुलिसकर्मी घायल भी हो गए। दो पुलिसकर्मी काफी देर तक लापता भी हो गए। इनमें एसओजी प्रभारी भी शामिल थे। हालांकि कुछ घंटों बाद वो वापस मिल गए। बताया जा रहा है कि कुछ लोगों ने हंगामे के दौरान दोनों को बंधक बना लिया था और पिटाई करने के बाद छोड़ा। उधर घायल पुलिसकर्मियों में से दो की हालत गंभीर बताई जा रही है। दोनों को गोली लगी है।

zafar
आरोपी जफर

दोनों पक्षों ने दर्ज कराया मुकदमा

ज्येष्ठ उपप्रमुख गुरताज सिंह भुल्लर की पत्नी गुरजीत कौर की मौत के बाद भुल्लर ने स्थानीय कुंडा थाने में यूपी पुलिस पर हत्या का केस दर्ज करा दिया है। वहीं यूपी के ठाकुरद्वारा पुलिस ने भी अज्ञात लोगों पर मुकदमा दर्ज कराया गया है।

क्या कहती है यूपी पुलिस 

यूपी पुलिस के जवानों पर हमले के बाद मुरादाबाद के डीआईजी शलभ माथुर ने घायल पुलिसकर्मियों का हालचार जाना है। यूपी पुलिस के अधिकारियों की माने तो जफर की लोकेशन ठाकुरद्वारा के आसपास मिली थी। पुलिस और एसओजी उसे पकड़ने निकली तो वो भाग कर उत्तराखंड की सीमा में पहुंच गया और भुल्लर के मकान में शरण ले ली। वहीं यूपी एसओजी और पुलिस जफर का पीछा करते हुए उत्तराखंड पहुंच गई और ये वारदात हो गई।

उत्तराखंड पुलिस का बयान 

वहीं उत्तराखंड पुलिस ने इस पूरे मामले की जांच शुरु कर दी है। भिड़ंत क्यों हुई और किसने शुरुआत की इसकी जांच की जा रही है। इसके साथ ही किसने पहले गोली चलाई इसकी जांच भी की जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here