सीएम त्रिवेंद्र रावत ने गैरसैंण के मसले पर सुनाई कांग्रेस को खरी-खरी

गैरसैंण-
भराड़ीसैंण में बजट सत्र से पहले ही राज्यपाल के अभिभाषण के दौरान गैरसैंण को स्थाई राजधानी बनाने की मांग के लिए कांग्रेस के हंगामे पर सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कांग्रेस को बुरी तरह घेरा है।
सीएम रावत ने कहा कि  गैरसैंण के मुद्दे पर कांग्रेस को बोलने का नैतिक अधिकार नहीं है। इतना ही नहीं सीएम रावत ने कहा कि कांग्रेस ने अंतरात्मा से कभी भी गैरसैंण राज्य की राजधानी बने इसके लिए पहल नहीं की।
सदन स्थगित होने के बाद पत्रकारों से बातचीत में सीएम ने कहा कि  उत्तराखंड बनने के 17 सालों में 10 साल कांग्रेस ने सत्ता संभाली। तब कांग्रेस को कभी भी गैरसैंण राजधानी हो इसकी याद नहीं आई। सीएम रावत ने तल्ख अंदाज में कहा गैरसैंण के नाम पर कांग्रेस अब शोर शराबा सिर्फ जनता का ध्यान अपनी ओर खींचने के लिए कर रही है।
गौरतलब है कि आज बजट सत्र में राज्यपाल के अभिभाषण के दौरान कांग्रेसियों ने गैरसैंण स्थाई राजधानी के मुद्दे पर जमकर हंगामा किया था। इस दौरान कांग्रेसी विधायक बेल पर आ गए थे और नारे लगाते रहे। इसी हंगामे के बीच ही अभिभाषण पूरा हुआ। लिहाजा हंगामें की स्थिति को देखते हुए  सदन स्थगित कर दिया गया।

(फाइल फोटो)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here