चंपावत ब्रेकिंग : चचेरे भाई बने दुश्मन, पीट-पीटकर उतारा मौत के घाट

चंपावत के चल्थी क्षेत्र के दूरस्त गांव नौलापानी में एक नामकरण संस्कार में गए तीन सगे भाइयों ने अपने ही चचेरे भाई को मौत के घाट उतार दिया। बता दें कि पहले तो तीनों ने उसे अधमर किया और जिसके बाद घायल को खटीमा से एचटीएस हल्द्वानी के अस्पताल ले जाया गया लेकिन डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया।इस खबर से घर में कोहराम मचा हुआ है।

मिली जानकारी के अनुसार बीते 14 सितंबर को चल्थी के पास नौलापानी गांव में नामकरण संस्कार कार्यक्रम था। जानकारी मिली है कि ग्राम प्रधान गीता देवी के पति (30) जीवन लाल पुत्र गणेश राम का गांव के ही लोगों से किसी बात को लेकर विवाद हो गया। विवाद इतना बढ़ गया कि मृतक के तीन सगे भाइय़ों ने अपने चचेरे भाी जीवन लाल को लाठी डंडे से खूब पीटा।साथ ही घूसें भी मारे। उस मार कर अधमरा कर दिया। घायल को संयुक्त चिकित्सालय टनकपुर ले जाया गया जहां चिकित्सकों ने हालत नाजुक देखते हुए उसे हायर सेंटर रेफर कर दिया। जिसके बाद मृतक का खटीमा के एक निजी चिकित्सालय में भर्ती किया गया। वहीं उसकी स्थिति खराब होने पर उसे सुशीला तिवारी अस्पताल भेजा गया, जहांं डाक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

मृतक के पिता गणेश राम ने जानकारी देते हुए बताया कि नामकरण संस्कार के दिन उनके बेटे जीवन को तीनों चचेरे भाईयों ने खूब मारा और घायल अवस्था में रास्ते में फेंक दिया था। काफी खोजबीन के बाद जीवन घायल अवस्था में जंगल में किनारे पड़ा मिला। मृतक के पिता ने चचेरे भाइयों पर हत्या का आरोप लगाया है और पुलिस को तहरीर सौंपने की बात कही।

इस मामले पर टनकपुर एसओ जसवीर चौहान ने बताया कि मृतक का पोस्टमार्टम कर शव को परिजनों के सौंप दिया है। मामला चल्थी चौकी क्षेत्र का है। इस घटना से पूरे क्षेत्र में सनसनी फैल गई है। परिजनों का रो रोकर बुरा हाल है। बताया जा रहा हैै कि मृतक की दो बेटिया और एक बेटा। चल्थी चौकी प्रभारी हेमंत कठैत ने बताया कि शाम तक घटना को लेकर कहीं से भी तहरीर नहीं मिली है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here