चमोली : प्रधान की 12 साल की बच्ची को गुलदार ने बनाया निवाला, लोगों में आक्रोश

leopard

चमोली : उत्तराखंड में ग्रामीण इलाकों के लोगों में गुलदार को लेकर दहशत है। आए दिन गुलदार मासूम बच्चों से लेकर घास लेने गई महिलाओं और व्यक्तियों को अपना निवाला बना रहे हैं। इससे कई जिलों के लोगों में दहशत का माहौल है।लोगों ने सरकार और वन विभाग पर लापरवाही का आरोप लगाया है।

ताजा मामला चमोली जिले के नारायणबगड़ सोमवार देऱ शाम का है, जहां एक बच्ची को गुलदार ने अपना निवाला बनाया। इससे बच्ची के परिवार में कोहराम मचा हुआ है। वहीं मौके पर पहुंची वन विभाग की टीम ने गुलदार की तलाश शुरु कर दी है लेकिन एक परिवार से उनकी बेटी छिन गई जिसे कोई वापस नहीं ला सकता है।

प्रधान की बेटी को गुलदार ने बनाया निवाला

मिली जानकारी के अनुसार गैरबारम गांव के प्रधान की 12 साल की बेटी दृष्टि सोमवार देर शाम गौशाला से वापस आ रही थी, तभी घात लगाकर बैठे तेंदुए ने उस पर हमला कर दिया। तेंदुए के हमला करते देख लोगों ने इसके बाद शोर मचाया और गुलदार मौके से भाग गया लेकिन तब तक बच्ची ने दम तोड़ दिया। इतना ही नहीं बच्ची को निवाला बनाने के कुछ ही घंटों बाद तेंदुए ने फिर एक य़ुवक के घर में हमला किया लेकिन वो किसी तरह बच गया। इस घटना से क्षेत्र में दहशत का माहौल है। इस क्षेत्र में गुलदार का ये तीसरा हमला है। लोग दहशत में हैं और कई बार वन विभाग से इसकी शिकायत कर चुके हैं और सरकार से गुलदार को मारने की मांग कर चुके हैं लेकिन किसी ने सुध नहीं ली।

जानकारी मिली है कि इससे पहले गुलदार ने भ्याड़ी गांव में एक चार साल के बच्चे को निवाला बनाया था। लोगों की मांग है कि गुलदार को जल्द से जल्द पकड़कर मार दिया जाए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here