कबाड़ बेचकर केंद्र ने की ढाई सौ करोड़ की कमाई, ऐसे चली योजना

waste and income

 

केंद्र सरकार ने कबाड़ से ही ढाई सौ करोड़ रुपए की कमाई कर ली है। केंद्र सरकार ने ‘जीवन सुगमता’ सुनिश्चित करने के लिए करीब 500 नियमों और प्रक्रियाओं को आसान बनाया है। इसके साथ ही देश में जारी स्वच्छता अभियान के तहत कबाड़ बेचकर 250 करोड़ रुपये से अधिक का राजस्व प्राप्त किया है। सीनियर नौकरशाह वी. श्रीनिवास ने यह जानकारी दी है। उन्होंने बताया कि करीब 3 लाख जन शिकायतों का हल अभियान के तहत निकाला गया।

 

प्रशासनिक सुधार और जन शिकायत विभाग (DARPG) के सचिव श्रीनिवास ने कहा कि इनमें से 4500 जन शिकायतें कैदियों से जुड़ी थीं। उन्होंने कहा, ‘यह अभियान विशाल और विस्तृत है। सरकार ने जीवन सुगमता के लिए करीब 500 नियमों और प्रक्रिया को आसान बनाया। प्रत्येक कदम से भारत के लाखों नागरिकों को लाभ हुआ है। विशेष अभियान 2.0, 2 अक्टूबर से 31 अक्टूबर 2022 तक अन्य संगठनों के साथ-साथ दूर स्थित कार्यालयों, विदेश में मौजूद मिशनों, केंद्र सरकार से सबद्ध और अधीनस्थ कार्यालयों में चलाया जा रहा है।’

भारतीय प्रशासनिक सेवा (IAS) के 1989 बैच के और राजस्थान काडर के अधिकारी श्रीनिवास ने बताया, ‘61,532 स्थानों पर सफाई अभियान चलाया गया और कबाड़ के निस्तारण से 252.25 करोड़ रुपये की कमाई की गई और 34.69 लाख वर्ग फीट क्षेत्र को साफ किया गया। इस अभियान का तीन सप्ताह में पूरा होना बड़ी उपलब्धि है।’

श्रीनिवास ने बताया कि विशेष अभियान 2.0 बीते तीन सप्ताह में बड़े पैमाने पर चला है। इसमें हजारों अधिकारी और नागरिक शामिल हुए, वे सरकारी कार्यालय में ‘स्वच्छता’ आंदोलन के लिए साथ आए हैं। इसमें सभी ने मिलकर अपना योगदान है। यही वजह है कि इस अभियान को सफलता मिली।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here