कभी सुधरने वाले नहीं चैंपियन, गाली देने वाले विधायक को बर्खास्त करे बीजेपी : आप

देहरादून : विवादों में रहने वाले खानपुर विधायक कुंवर प्रणव सिंह चैंपियन का एक ऑडियो आजकल सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा, जिसमें वो लक्सर के महाविद्यालय में धरने पर बैठे कार्यकर्ताओं की मांग पूरी होने पर उसका श्रेय खुद लेते हुए एबीवीपी के प्रदेश कार्यकारिणी के सदस्य को धमका रहे हैं और गाली गलौच कर रहे हैं।

आप प्रवक्ता रवींद्र आनंद और विशाल चौधरी ने एक प्रेस वार्ता कर चैंपियन को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि विधायक चैंपियन कभी सुधरने वाले नहीं हैं। गालियां देने में और धमकाने में, ये खुद की शान समझते हैं। उत्तराखंड को गाली देने के मामले में , बीजेपी से निष्कासन के बाद महज तेरह महीनों में बीजेपी ने उनको वापिस पार्टी में बुला कर उत्तराखंड की जनता का अपमान किया और चैंपियन ने भी माफी मांगने का ढोंग रचते हुए खुद को पहाड़ से जोड़ने की कोशिश की लेकिन चंद महीनों में उनकी हकीकत एक बार फिर सामने आ गई और सोशल मीडिया में सामने आए इस ऑडियो ने एक बार फिर बता दिया,ये चैंपियन नहीं सुधरने वाला ,गाली देना,धमकाना चैंपियन की आदत है जिसे वो कभी नहीं छोड़ सकता है।

चैंपियन की जनता के प्रति सम्मान और हनक का अंदाजा इस बात से लगा सकते हैं कि अगर दो हफ्ते से महाविद्यालय में किसी मांग को लेकर एबीवीपी के कार्यकर्ता बैठे थे और वो मांग उच्च शिक्षा मंत्री ने मान ली। जिसके बाद बौखलाहट में वो खुद उसका श्रेय लेने के लिए,धरने पर बैठे एबीवीपी कार्यकर्ताओं को फोन करके गाली गालौच और धमकाने पर उतर आए। आम आदमी पार्टी के प्रवक्ता ने कहा,हम ऐसे विधायक जो उत्तराखंड को गाली देता, उत्तराखंड के जनता को धमकाता है उसको किसी भी हालात में बर्दाश्त नहीं करेंगे।

आप का इस मामले में साफ तौर पर ये मानना है ऐसे जनप्रतिनिधि जो जनता का सम्मान नहीं करते,उत्तराखंड को गाली दे चुके और तमाम विवादों में घिरे रहते हैं उनको तत्काल बीजेपी को निष्कासित करना चाहिए। अगर बीजेपी उनसे कोई राजनैतिक लाभ की उम्मीद को देखते हुए ,ऐसे ही प्रदेश की जनता के मान सम्मान से खेलने की इजाज़त देती है तो इसको आप किसी भी हालात में बर्दाश्त नहीं करेगी। आम आदमी पार्टी की मांग है कि ऐसे विधायक को किसी पार्टी में रहने का हक़ नहीं है इसलिए आप बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत से मांग करती। अनुशासन की बात कहने वाली पार्टी।

चैंपियन को अनुशासन का पाठ नहीं पढ़ा पाई और उनकी माफी मांगने के बाद वायरल हुए इस ऑडियो को संज्ञान में लेते हुए तत्काल चैंपियन को पार्टी से बाहर का रास्ता दिखाएं। अगर बीजेपी संघठन चैंपियन के खिलाफ कोई कठोर एक्शन नहीं लेती तो आप कार्यकर्ता सड़कों पर उतर कर ऐसे विवाद ओर उत्तराखंड को गाली देने के साथ साथ धमकाने वाले विधायक के खिलाफ आंदोलन करेंगे। और
बीजेपी के दोहरे चरित्र से उत्तराखंड को बचाने के लिए पूरे उत्तराखंड में सड़कों पर उतरेगी। आप किसी भी हालात में राज्य और राज्य के लोगों को गाली देने वाले किसी भी व्यक्ति को बर्दाश्त नहीं करेगी चाहे वो कोई भी हो।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here