कुछ ही घंटों में CM से पूर्व सीएम हो जाएंगे तीरथ रावत, कल विधायक दल की बैठक, क्या ‘रावत’ ही होगा अगला सीएम

देहरादून : शाम होते-होते दिल्ली से उत्तराखंड के लिए बड़ी खबर सामने आई हालांकि अटकले पहले से ही थी कि उत्तराखंड में नेतृत्व में परिवर्तन होगा। जो शाम होते-होते सच साबित हुई बता दें कि उत्तराखंड के सीएम तीरथ सिंह रावत ने बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा को खत के ज़रिए अपना इस्तीफा भेज दिया है। उन्होंने इस्तीफे में जनप्रतिधि कानून की धारा 151 ए का हवाला दिया है और कहा है कि वो अगले 6 महीने में चुनकर दोबारा नहीं आ सकते। बता दें कि मार्च 10 तारीख को सीएम ने अपने पद की शपथ ली थी. वहीं जुलाई में अब उन्होंने अपना इस्तीफा राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा को सौंप दिया है अब सीएम तीरथ सिंह रावत कार्यवाहक सीएम बन गए हैं और नया सीएम चुनने के बाद वह पूर्व सीएम कहलाएंगे। कुछ ही महीने पहले सीएम बने तीरथ सिंह रावत कुछ घंटे बाद पूर्व सीएम हो जाएंगे।

क्या ‘रावत’ ही होगा अगला सीएम?

वहीं इस बीच अगले सीएम के नामों के दौड़ में सतपाल महाराज, धन सिंह रावत, बिशन सिंह चौफाल के साथ पुष्कर धामी और रितु खंडूरी का नाम सबसे आगे चल रहा है। वहीं अब लोगों के मन में एक ही सवाल उठ रहा है कि क्या अगला सीएम रावत ही होगा। क्योंकि इससे पहले त्रिवेंद्र रावत फिर तीरथ सिंह रावत। वही अब लोगों के मन में यही सवाल है कि क्या अब अगला सीएम उत्तराखंड का रावत ही होगा.

सीएम ने जेपी नड्डा को खत में लिखी है बात

वहीं बता दें कि जेपी नड्डा को भेजे अपने खत में तीरथ सिंह रावत ने कहा कि मैं 6 महीने के अंदर दोबारा नहीं चुना जा सकता। ये एक संवैधानिक बाध्यता है। इसलिए अब पार्टी के सामने मैं अब कोई संकट नहीं पैदा करना चाहता और मैं अपने पद से इस्तीफा दे रहा हूं। आप मेरी जगह किसी नए नेता का चुनाव कर लें।

मुख्यमंत्री रावत ने इस्तीफे की औपचारिकता पूरी करने के लिए उत्तराखंड के राज्यपाल से मिलने के लिए समय मांगा है। बताया जा रहा है कि वक्त मिलते ही तीरथ सिंह रावत गवर्नर हाउस पहुंचकर आधिकारिक तौर पर गवर्नर को अपना इस्तीफा सौंप देंगे।

नरेंद्र सिंह तोमर पर्यवेक्षक नियुक्त

नए सीएम की तलाश के लिए बीजेपी ने केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर को पर्यवेक्षक नियुक्त कर दिया है। शनिवार सुबह 11 बजे तोमर देहरादून पहुंचेंगे. तोमर की मौजूदगी में ही बीजेपी विधायक दल की बैठक होगी। केंद्र की ओर से जो नाम भेजा जाएगा, उसपर विधायकों की सहमति लेने की कोशिश की जाएगी। फिर नए सीएम का एलान कर दिया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here