बड़ी खबर : उत्तराखंड के इस हिल स्टेशन पर 30 जून तक लोगों के आने पर रोक, सीमाएं सील

पौड़ी: पर्यटन नगर और छावनी एरिया लैंसडाॅन में 30 जून तक लोगों के आने पर रोक लगा दी गई है। लैंसडौन में 30 जून तक बाहरी क्षेत्रों से आने वाले पर्यटकों पर पूरी तरह रोक रहेगी। साथ ही दूसरे शहरों से आने वाले स्थानीय लोगों के लिए 7 दिन का संस्थागत क्वारंटीन में रहना अनिवार्य कर दिया गया है। सात दिनों के संस्थागत क्वारंटाइन का प्रमाणपत्र दिखाने पर ही लैंसडौन कैंट की सीमा में एंट्री मिल पाएगी। कैंट काी सीमाओं को सील कर पुलिस और कैंट बोर्ड के कर्मचारी तैनात कर दिए गए हैं।

छावनी परिषद के चेयरमेन ब्रिगेडियर अनूप सिंह चैहान ने आदेश जारी करने हुए कहा कि कोविड-19 महामारी से पर्यटन नगरी लैंसडौन को सुरक्षित रखने के लिए यह कदम उठाया गया है। लैंसडौन में 30 जून तक पर्यटकों का प्रवेश पूरी तरह निषेध रहेगा। स्थानीस लोग सात दिन का संस्थागत प्रमाणपत्र टोल बैरियर में दिखाने के बाद ही कैंट क्षेत्र में आ पाएंगे। साथ ही इसके बाद 14 दिन वह होम क्वारांटन में रहेंगे।
होम क्वारंटाइन होने वाले सरकारी कर्मचारियों की सूची छावनी परिषद की ओर से विभागाध्यक्ष को सौंपी जाएगी। कैंट चेयरमैन ने निर्देशों का पालन करवाने के लिए छावनी परिषद ने दो दलों का भी गठन किया है। वह नियमों का पालन सुनिश्चित करवाने के लिए सीमाओं का औचक निरीक्षण करेंगे। कैंट के सीईओ भूपति रोहित ने निर्देशों का पालन न करने वाले लोगों के खिलाफ कार्रवाई की बात भी कही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here