सेना से जुड़ी बड़ी खबर : मुठभेड़ में मजदूरों को मार बताया था आतंकी! जवानों पर कार्रवाई का आदेश

जम्मू/कश्मीर : सेना से जुड़ी एक बड़ी खबर सामने आ रही है. सेना ने एक बड़ा फैसला लेते हुए जम्मू-कश्मीर के शोपियां में एक मुठभेड़ के दौरान नियमों का उल्लंघन करने अनुशासनात्मक कार्रवाई करने का आदेश दिया हैं. सेना की कोर्ट ऑफ इन्क्वारी ने जवानों को दोषी मानते हुए, उनके खिलाफ कार्रवाई का आदेश दिया है.जानकारी के अनुसार घटना शोपियां की बताई जा रही है.

बताया जा रहा है कि जुलाई 2020 में यह कार्रवाई की गई थी. की है. एक मुठभेड़ में जितने जवान शामिल थे, उनके खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई होगी. सेना की तरफ से कहा गया है कि पहली नजर में ऐसा लगता है कि मुठभेड़ में शामिल जवानों ने कानून की अवहेलना की. इस घटना में जो लोग मारे गए वे मजदूर परिवार से थे.

घटना के पीड़ितों ने सेना की कार्रवाई पर सवाल उठाया था और तीन लोगों के पीड़ित परिवार का आरोप है कि यह फर्जी एनकाउंटर था. इस घटना में जिन लोगों को मारा गया उनका आतंकवाद से कोई लेना-देना नहीं था. जो तीन लोग मारे गए थे उनका डीएनए रिपोर्ट भी अभी आना बाकी है.

सेना की कार्रवाई पर जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री और नेशनल कॉन्फ्रेंस नेता उमर अब्दुल्ला ने ट्वीट किया है. अब्दुल्ला ने कहा है कि जिन तीन लोगों की हत्या हुई, उनके परिजन अपनी बेगुनाही साबित करते रहे हैं. अब सेना ने जब अनुशासनात्मक कार्रवाई शुरू कर दी है, तो इससे तय है कि वह पीड़ित परिवार की बात से सहमत है. दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा मिलनी चाहिए.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here