बड़ी खबर : सावधान! नए कोरोना स्‍ट्रेन के भारत में इतने केस, UK से लौटे कई लोग गायब

देहरादून: ब्रिटेन में मिले कोरोना वायरस के नए रूप से पूरी दुनिया में डर हे। ब्रिटेन से लौटे लोगों को टेस्ट कर उनको अलग रखा जा रहा है। भारत भी उन देशों में शामिल है, जहां कोरोना के नए स्ट्रेन से संक्रमित लोग हैं। देश में कम से कम 20 लोगों को संक्रमित करने की पुष्टि हुई है। भारत में अबतक जो केस मिले हैं, उनके तीन सैंपल बेंगलुरु, दो हैदराबाद और एक पुणे में पॉजिटिव पाए गए। यूपी में भी म्‍यूटंट स्‍ट्रेन का पहला केस मिल चुका है। यूके से लौटी मेरठ की दो साल की बच्‍ची नए स्‍ट्रेन से संक्रमित है। हालांकि उसके माता-पिता को पुराने वैरियंट से संक्रमण का पता चला है। इधर, उत्तराखंड से भी लोगों के सैंपल जांच के लिए भेज जा चुके हैं। रिपोर्ट का इंतजार है।

अब तक जो 20 मामले सामने आए हैं, उनमें उत्तर प्रदेश की एक बच्ची के अलावा आंध्र प्रदेश की एक 47 साल की महिला भी है। वह पिछले हफ्ते दिल्‍ली एयरपोर्ट पर अधिकारियों को चकमा देकर फरार हो गई थी। यह महिला 22 दिसंबर को नई दिल्‍ली से विशाखापट्नम के लिए ट्रेन में बैठी और अपना मोबाइल फोन बंद कर लिया। इससे उसे ट्रैक कर पाना मुश्किल हो गया। महिला 24 दिसंबर को अपने घर राजामुंदरी पहुंची। हालांकि बाद में उसे ट्रैक कर क्‍वारंटीन किया गया। उसके खिलाफ पुलिस कम्‍प्‍लेंट भी दर्ज कराई गई है। उसका बेटा जो पूरी यात्रा में उसके साथ था, निगेटिव पाया गया है।

पुणे नगर निगम को पिछले 15 दिन में यूके से लौटे 109 लोगों का कोई पता नहीं है। कुछ की कॉन्‍टैक्‍ट डीटेल्‍स हैं और कुछ फोन नहीं उठा रहे। इसके बाद नगर निगम ने पुलिस की मदद मांगी है। अधिकारियों का कहना है कि कुछ मुंबई में लैंड किए और बाई रोड पुणे आए। टीम ने उनसे संपर्क करने की कोशिश की मगर ट्रेस नहीं किया जा सका है। पुणे नगर निगम के प्रोटोकॉल के अनुसार, पश्चिमी एशिया और यूरोपियन देशों से लौटे सभी लोगों को अपने खर्च पर सात दिन तक नजदीकी होटल में इंस्टिट्यूशनल क्‍वारंटीन में रहना होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here