उत्तराखंड से बड़ी खबर : ग्राम प्रधान की गोली मारकर हत्या, 22 साल के लड़के ने लिया डांट का बदला!

पिथौरागढ़ में हत्या

 

पिथौरागढ़: सीमांत जनपद की थल तहसील क्षेत्र के पुरानाथल क्षेत्र के माछीखेत गांव में सनीसनीखेज हत्याकांड सामने आया है। गांव के ही 22 साल के लड़के ने पड़ोस में रहने वाले ग्राम प्रधान की गोलीमारकर हत्या कर दी। बताया जा रहा है कि कुछ दिन पहले लड़को को डांटा था। उसकी का बदला लेने के लिए उसने प्रधान को उसी के बड़े भाई की बंदूक से गोली मारकर हत्या कर दी।

ग्राम प्रधान को गोली मारने के बाद युवक गांव के पास ही एक एक मंदिर के शौचालय में छिपा गया था, जिसे बेड़ीनाग पुलिस और राजस्व पुलिस की टीम ने गिरफ्तार कर लिया। माछीखेत के बानड़ी तोक निवासी ग्राम प्रधान पुष्कर सिंह रात के वक्तघर से बाहर आए थे। इस दौरान गांव के 22 साल के नीरज सिंह ने उनको गोली मार दी।

संडे को थल के राजस्व निरीक्षक गोविंद नाथ गोस्वामी, पूरन सिंह गोस्वामी, राजस्व उपनिरीक्षक पुष्कर राम, पवन चैहान और संजीव द्विवेदी ने घटनास्थल का निरीक्षण कर पंचनामा, पोस्टमार्टम की प्रक्रिया पूरी की। आरोपी युवक को एक मंदिर के शौचालय से गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस ने उसके पास से दोनाली बंदूक और कारतूस भी बरामद किए हैं।

हत्या के ओरोपी नीरज का गुस्सा इस कदर था कि उसने पूछताछ में बताया कि मुझे तो प्रधान के साथ उसके भाई और बेटे को भी मौत की नींद सुलाना था लेकिन, वो बच गए। पुलिस के मुताबिक आरोपी ने रंजिशन प्रधान की हत्या करने की बात करते हुए फौज में नौकरी नहीं लगने से तनाव में रहने की बात भी कबूल की है। प्रधान की गलती केवल इतनी थी कि उन्होंने नीरज को अपनी मां और पिता से झगड़ा करने पर डांटा था।

हत्याकांड को जिस बंदूक से अंजाम दिया वह बंदूक मृतक प्रधान के बड़े भाई राजेंद्र सिंह की बताई जा रही है, जिसे नीरज ने उनके ही घर से चुराया था। कारतूस के दो पैकेट भी उसने चुराए थे और फिर यू-ट्यूब पर बंदूक लोड करने और चलाने की विधि सीखी और दोनाली बंदूक लोड करके प्रधान के बाहर आने का इंतजार करने लगा। रात को जैसे ही ग्राम प्रधान पुष्कर सिंह लघु शंका के लिए बाहर आए तो उसने गोली दाग दी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here