उत्तराखंड से बड़ी खबर : घर से किशोरी का अपहरण, जंगल में अगले दिन मिली बदहवास

 

 

नैनीताल: बेतालघाट ब्लाॅक के एक गांव में किशोरी के अपहरण का सनसनीखेज मामला सामने आया है। तीन युवक किशोरी को घर से अपहरण कर ले गए। 14 साल की किशोरी को जंगल में फेंक गए। किशोरी गुरुवार को बदहवास हालत में जंगल में पड़ी मिली। परिजनों ने किशोरी से सामूहिक दुष्कर्म की आशंका जताई है।

किशोरी के परिजनों ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि बुधवार शाम को पास के गांव के तीन युवक उनके घर पहुंचे और उनकी बेटी को जबरन उठा ले गए। जिस वक्त ये घटना हुई। उस वक्त बेटी घर में अकेली थी। परिजन जब घर लौटे तो किशोरी घर पर नहीं मिली। ग्रामीणों को सूचना देने के साथ ही उसकी खोजबीन शुरू की, लेकिन उसका कहीं पता नहीं चला।

बृहस्पतिवार को बेतालघाट जा रहे कुछ लोगों ने जंगल में किशोरी को बदहवास पड़ा देखा। सूचना पर ग्रामीण और परिजन मौके पर पहुंचे और किशोरी को एंबुलेंस से सीएचसी बेतालघाट ले गए। बेतालघाट पुलिस और पटवारी को भी सूचना दे दी सीएचसी में प्राथमिक इलाज के बाद परिजन किशोरी को बीडी पांडे अस्पताल नैनीताल ले गए। बताया जा रहा है कि वहां डॉक्टर ने पुलिस को सूचित किए जाने के बाद इलाज कराने की बात कही। इस पर परिजन किशोरी को यहां से लेकर चले गए।

परिजनों के मुताबिक होश में आने पर उनकी बेटी ने बताया कि पास के गांव के तीन युवक उसे जबरन ले गए और किसी को कुछ बताने पर परिजनों को जान से मारने की धमकी दी। पीड़िता के पिता के अनुसार उनकी बेटी अभी कुछ भी बोलने की स्थिति में नहीं है। वह डरी हुई है। उन्होंने बेटी के साथ सामूहिक दुष्कर्म की आशंका जताई है। घटना को अंजाम देने वाले युवक प्रवासी बताए जा रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here