उत्तराखंड से बड़ी खबर : चारधाम यात्रा के लिए SOP जारी, यहां मिलेगी हर जानकारी

देहरादून । उत्तराखंड में चारधाम यात्रा शुरू करने को लेकर देवस्थानम श्राइन बोर्ड में बड़ा फैसला लिया हैजी हां देवस्थानम श्राइन बोर्ड ने प्रदेश के भीतर के श्रद्धालुओं को चार धाम यात्रा करने की अनुमति दे दी है, जिसके तहत उत्तराखंड के चारों धामों में सीमित संख्या में श्रद्धालु चारों धामों में दर्शन कर सकेंगे. चारों धामों में दर्शन करने के लिए केवल उत्तराखंड के भीतर के लोगों को ही अनुमति दी गई है। जबकि, दूसरे प्रदेशों से किसी भी श्रद्धालुओं को दर्शन करने की अनुमति अभी नहीं दी गई है।

देवस्थान श्राइन बोर्ड के द्वारा जारी किए गए निर्देशों के तहत 30 जून तक बद्रीनाथ धाम में 1 दिन में प्रतिदिन 1200 यात्री ही दर्शन कर पाएंगे, तो केदारनाथ में 800 यात्री दर्शन कर पाएंगे जबकि गंगोत्री धाम में 600 और यमुनोत्री धाम में 400 श्रद्धालु दर्शन कर पाएंगे। यात्रा के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का विशेष ख्याल रखा जाएगा। इसको लेकर देवस्थान श्राइन बोर्ड ने एसओपी भी जारी की है । जिसके तहत चारों धामों में सुबह 7:00 बजे से शाम 7:00 बजे तक दर्शन करने के लिए अनुमति दी गई है बिना टोकन के किसी भी धाम में दर्शन नहीं होंगे ।

टोकन को निशुल्क रखा गया है जो देवस्थानम श्राइन बोर्ड उपलब्ध कराएगा। चारों धामो में मास्क के साथ दर्शन करने को अनिवार्य किया गया है । साथ ही टोकन में समय निर्धारित किया गया है कि कितने बजे तक आपको दर्शन करने होंगे । 1 घंटे में 120 दर्शनार्थियों को दर्शन करने दिया जाएगा । मंदिर के अंदर सभामंडप में 30 सेकंड का समय दर्शन के लिए अनु मान्य ने किया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here