उत्तराखंड से बड़ी खबर : स्कूलों का होगा मर्जर, CM ने इनको सौंपी जिम्मेदारी

देहरादून: उत्तराखंड में कम छात्र संख्या वाले स्कूलों की मर्जर की योजना पर सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने मुहर लगा दी है। सीएम ने ऐलान किया है कि उन बेसिक और माध्यमिक स्कूलों को मर्ज किया जाएगा, जिनमें छात्र संख्या बहुत कम हैं। राज्य में पहले ही इस पर चर्चा होती रही है। कई स्कूल बंद भी कर दिए गए हैं। सीएम ने कहा कि प्रत्येक प्राथमिक विद्यालय में पांच शिक्षकों की तैनाती की जाएगी।

लेकिन, ऊधमसिंह नगर जिले में आइएएस नीरज खैरवाल ने डीएम रहते यह प्रयोग पूरे अध्ययन के बाद किया था। उनके वहां से स्थानांतरण के बाद वर्तमान डीएम रंजना राजगुरू ने उस कार्यक्रम को आगे बढ़ाया। जिले में कई स्कूलों का मर्जर किया जाएगा चुका है।

सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने वर्तमान में ऊर्जा निगम के एमडी नीरज खैरवाल की अध्यक्षता में एक समिति गठित की गई हैै। इस समिति में निदेशक मध्यमिक और बेसिक के साथ ही सचिव और सभी जिलाधिकारी भी इसमें सदस्य होंगी। समिति एक माह में अपनी रिपोर्ट शासन को सौंपेगी। उसके बाद स्कूलों के मर्जर पर फैसला लिया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here